सार्वजनिक व जन हित के कार्य में बाधा डालने वालों के खिलाफ करें कार्यवाही: जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम

कलक्ट्रेट सभा कक्ष में विभिन्न विभागों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक

बीकानेर(हैलो बीकानेर न्यूज़)। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सार्वजनिक व जनहित के कार्यों में बाधा डालने वालों को समझाइश करें तथा नहीं मानने पर उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही अमल में लाएं ।
कुमार पाल सोमवार को कलक्ट्रेट सभा कक्ष में विभिन्न विभागों की साप्ताहिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि सोमवार को होने वाली साप्ताहिक समीक्षा बैठक में आवश्यक रूप से उपस्थित रहे।

जिला कलक्टर ने कहा कि बीकानेर से फलौदी के मार्ग में कुछ स्थानों पर लोगों द्वारा बाधा डालने से राष्ट्रीय राजमार्ग का कार्य बाधित हो रहा है। उप खंड अधिकारी कोलायत, सार्वजनिक निर्माण विभाग व पुलिस के अधिकारी संयुक्त प्रयास कर मार्ग के कार्य में बाधा डालने वाले लोगों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कानूनी कार्यवाही करते हुए पाबंद करें।  उन्होंने कहा कि शहर में कई स्थानों पर नगर विकास न्यास व सार्वजनिक निर्माण विभाग की अनुमति के बिना ही सड़क को कई कार्यकारी एजेन्सियों द्वारा तोड़ दिया जाता है, जिससे आम लोगों को परेशानी होती है, वहीं सड़क निर्माण में पुनः अधिक व्यय होता है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि आपसी समन्वय के साथ वांछित अनुमति के बाद ही सड़क को तोड़ कर पाइप लाइन, केबल लाइन, बिजली की लाइन, सीवरेज लाइन डालने का कार्य करें।

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के लिए भूमि चिन्हित-
कुमार पाल गौतम ने नगर विकास न्यास व चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को समन्वय स्थापित करके इंदिरा काॅलोनी, रामपुरा बस्ती में तीन दिन में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के लिए भूमि चिन्हित करने के निर्देश दिए। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में उपखंड अधिकारी, विकास अधिकारी, तहसीलदार और ग्राम पंचायत से स्कूल, स्वास्थ्य केन्द्र के लिए भूमि का चिन्हीकरण के बाद प्रस्ताव के माध्यम से उचित कार्यवाही के निर्देश दिए।

औद्योगिक इकाइयों के अपशिष्ट का निस्तारण करें-
जिला कलक्टर ने औद्योगिक इकाईयों की ओर से राष्ट्रीय राजमार्गों व अन्य स्थानों पर फैंके जाने वाले अपशिष्ट का निस्तारण करने के स्थान का चयन करने, औद्योगिक इकाइयों विशेषकर ऊन, प्लास्टर आॅफ पैरिस, चाइना क्ले से बनाएं जाने वाले उत्पादों के कचरे को निर्धारित स्थान पर जमा कर उसका निस्तारण करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि औद्योगिक इकाइयों का दायित्व है कि वे फैक्ट्री के अनुपयोगी कचरे व स्लेज का निस्तारण सही तरीके से करें। रीको, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सहित सक्षम विभागों के अधिकारी मार्गों पर फैक्ट्री की अनुपयोगी सामग्री डालने वालों को नोटिस देकर आवश्यक कार्यवाही करें।
सभी को पानी मिले-
कुमार पाल गौतम ने नगर विकास न्यास व नगर निगम तथा निजी कोलेेानाइजरों द्वारा बसाई गई काॅलोनियों को शुद्ध पेयजल मिले इसके लिए जन स्वास्थ्य विभाग के अभियंता एक तकमीना बनाकर प्रस्तुत करें जिसको राज्य सरकार स्तर पर स्वीकृति के लिए भिजवाया जा सके। उन्होंने न्यास व निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि काॅलोनाइजर का प्रथम दायित्व है कि वे अपनी ओर से बसाई गई काॅलोनियों में पेयजल आदि की मूलभूत सुविधाएं सुलभ करवाएं। नागरिकों को मूलभूत सुविधाएं सुलभ नहीं करवाने वाले काॅलोनाइजरों के खिलाफ कानूनी प्रावधानों के अनुसार कार्यवाही करें।

प्रधानमंत्री आवास योजना में कोताही बर्दाश्त नहीं-
जिला कलक्टर ने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना में किसी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पात्र लोगों के मकान बन जाने पर उन्हें किश्त का भुगतान करें। इसी तरह जिनके घरों में स्वच्छ भारत अभियान के दौरान शौचालय बना दिए गए हंै, उनको किश्त का भुगतान करें। कार्य में लापरवाही या कोताही बरतने पर विकास अधिकारी व ग्राम सेवक को निलम्बित करने की कार्यवाही की जाएगी।
घर-घर कचरा संग्रहण-
कुमार पाल ने निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि स्वच्छ भारत अभियान को मूर्त रूप देने, शहर को स्वच्छ बनाने के लिए 26 जनवरी से घर-घर कचरा संग्रहण का अभियान शुरू करें। पूर्व की तरह कचरा संग्रहण कार्य में स्वयं सेवी, सामाजिक संस्थाओं का पूर्ण सहयोग लें। अभियान की पूर्ण मोनिटरिंग करें तथा आम लोगों को कचरा निर्धारित स्थान पर जमा करने व घर-घर घूमने वाले वाहन में डालने के लिए प्रेरित करें।