राजस्थान में मुख्यमंत्री पेच ख़त्म हो गया है कांग्रेस आलाकमान ने अशोक गहलोत के अनुभव को देखते हुए उनके नाम पर मुहर लगा दी है। अशोक पहले भी सीएम रह चुके हैं. जबकि सचिन पायलट युवा नेता को मौका देने की दलील दे रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक उन्होंने राहुल गांधी और सोनिया से कहा है कि पिछले साढ़े चार साल के दौरान यहां खूब मेहनत की है।। जबकि अशोक गहलोत को गुजरात में कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन और अब राजस्थान में जीत का श्रेय दिया जा रहा है। सीएम पद कांग्रेस आलाकमान ने अशोक गहलोत के अनुभव को देखते हुए उनके नाम पर मुहर लगा दी है।  सचिन पायलत होंगे डिप्टी सीएम ….