चुनाव के दौरान आदर्श आचार संहिता की अक्षरशः पालना हो- डाॅ.गुप्ता

हैलो बीकानेर न्यूज़ । जिला निर्वाचन अधिकारी डाॅ.एन.के.गुप्ता ने कहा है कि विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान आम मतदाता अपने अमूल्य वोट का उपयोग निर्भय होकर कर सके इसके पूरे बंदोबस्त किये जायेगें। आम जन में यह विश्वास बने कि उनका मतदान स्वतंत्र व निष्पक्ष रूप से होगा तथा इसमें किसी तरह की कोई परेशानी नहीं आएगी। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक व पुलिस अधिकारी कानून एवं व्यवस्था पूर्ण रूप से बनाएं रखे। अपराधिक प्रवृृति के लोगों, अवांछनीय गतिविधियों को रोकने के लिए सक्रियता व सजगता से कार्य करें। चुनाव के दौरान आदर्श आचार संहिता की अक्षरशः पालना सुनिश्चित की जाए। असामाजिक तत्वों में कानून का भय होना चाहिए।
डाॅ.गुप्ता शनिवार को कलक्टेªट सभाकक्ष में जिले की सभी विधान सभा क्षेत्र के रिटर्निंग अधिकारियों और पुलिस अधिकारियों की बैठक में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि जब तक नाम निर्देशन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया प्रारंभ नहीं हो जाती है तब तक सभी उपखंड अधिकारी तथा पुलिस अधिकारी संयुक्त रूप से प्रतिदिन अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में भ्रमण करके आदर्श आचार संहिता की पालना सुनिश्चित करवाएंगे। उन्होंने कहा कि अलग अलग समय व स्थानों पर तहसीलदार व उप खंड अधिकारी, पुलिस अधिकारियों के साथ क्षेत्र का भ्रमण करेंगे। उन्होंने सभी उप खंड अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे अपने अधीन सहायक के रूप में अलग से उड़न दस्ते गठित कर, दस्तों के द्वारा की गई कार्यवाही की समीक्षा करें।
जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि फ्लाईंग स्क्वैड़ अपने दौरों में अवैध हथियारों, विस्फोटक सामग्री या असामाजिक तत्वों की आवाजाही पर निगरानी रखते हुए प्रभावी कार्यवाही करें। उन्होंने कहा कि उड़न दस्ते अवैध गतिविधियों की जानकारी के लिए दूसरों के भरोसे नहीं रहकर स्वयं सजकता व समझ से क्रियाशील रहते हुए कार्यवाही करें। साथ ही जब कभी भी नकदी, शराब या रिश्वत की कोई अन्य वस्तु के वितरण के संबंध में कोई जानकारी या शिकायत मिलती है तो तत्काल प्रभावी कार्यवाही अमल में लाई जाए ।
डाॅ.गुप्ता ने सभी अधिकारियों से कहा कि असामाजिक तत्वों के विरुद्ध निरोधात्मक कार्यवाही कर साक्ष्य एकत्रित करते हुए गवाहों एवं ऐसे व्यक्तियों के बयान को रिकार्ड करेंगे, जिनसे अवैध वस्तुएं जब्त की गई है। जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि जहां कहीं भी राजनीतिक पार्टी के झंड़े, पोस्टर  व चिन्ह लगे दिखाई दे उनकी वीडियो रिकार्डिंग करते हुए नोटिस जारी कर नियमों के तहत कार्यवाही अमल में लाई जावे।
बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा ने कहा चुनावों में मतदाताओं को डराने, धमकी देने तथा प्रभावित करने वालें लोगों के विरुद्ध पुलिस सख्ती से पेश आएं। उन्होंने कहा कि उड़न दस्ते में शामिल सभी पुलिस अधिकारी प्रतिदिन अपराधी प्रवृति के लोगों के खिलाफ मामले आवश्यक रूप से दर्ज करेंगे। उन्होंने चुनाव के दौरान अपने सूचना तंत्र को सक्रिय करते हुए उनसे जानकारी लेकर संभावित अपराधिक गतिविधियों को तत्परता से रोका जाए। आबकारी एक्ट एवं आम्र्स एक्ट के तहत कार्यवाही करते हुए अवैध शराब में लिप्त तथा अवैध हथियार के कारोबार में लगे लोगों के खिलाफ मामले दर्ज करें।
मतदान केन्द्रों का होगा नियमित भ्रमण
जिला निर्वाचन अधिकारी व जिला कलक्टर डाॅ.गुप्ता ने कहा कि मतदान दिवस तक सभी मतदान केन्द्रों का निरीक्षण तथा वहां सभी व्यवस्थाएं माकूल है, बिजली, दो तरफ का रास्ता तथा दिव्यांग व्यक्तियों के लिए पृृथक से व्यवस्था है, साथ ही सभी विधान सभा क्षेत्रों में कानून व्यवस्था संधारित रहे इसके लिए अलग-अलग दलों द्वारा सभी मतदान केन्द्रों का भौतिक निरीक्षण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस व्यवस्था के तहत सभी तहसीलदार, संबंधित थाना अधिकारी के साथ, उप खंड अधिकारी उप अधीक्षक पुलिस के साथ अपने अपने क्षेत्र में, तथा अतिरिक्त जिला कलक्टर व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जिले के विभिन्न क्षेत्रों में भ्रमण करेंगे।
बैठक में अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए.एच. गौरी,अतिरिक्त कलक्टर (शहर) शैलेन्द्र देवड़ा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर पवन मीणा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) लालचंद कायल, उपखण्ड अधिकारी बीकानेर श्रीमती मोनिका बल्लारा, कोलायत उपखण्ड अधिकारी रतन कुमार स्वामी सहित जिले के समस्त राजस्व अधिकारी तथा पुलिस अधिकारी उपस्थित थे।