बीकानेर। एसीबी की फर्जी कार्रवाई कराने वाले नगर विकास न्यास बीकानेर के ठेकेदार, अधिशाषी अभियंता एवं सहायक अभियंता की अग्रिम जमानत याचिका न्यायालय से खारिज होने के काद अब न्यायालय ने उनका गिरफ्तारी वारंट जारी कर दिया है।

नगर विकास न्यास के कनिष्ठ लेखाकार लालचन्द सोनी के विरूद्ध एसीबी की फर्जी कार्रवाई करवाने एवं इस कार्रवाई के बाद नगर विकास न्यास बीकानेर से जारी मूल माप पुस्तिका गायब कर इसके स्थान पर फर्जी माप पुस्तिका तैयार कर लाखों रूपयों का फर्जी भुगतान उठाने के आरोप में सदर थाने में ३१ मई २०१८ को लालचंद सोनी की ओ से मामला दर्ज कराया गया था।

मामले में आरोपी ठेकेदार विनोद कुमावत, अधिशाषी अभियंता प्रेम वशिष्ठ, सहायक अभियंता महावीर प्रसाद टाक की ओर से सेशन न्यायालय में प्रस्तुत अग्रिम जमानत २१ नवम्बर को खारिज कर दी गई। गंभीरता को देखते हुए आरोपियों के खिलाफ अपराध प्रमाणित मानने पर वे भूमिगत हो गए। इस पर न्यायालय ने आरोपियों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जारी कर सदर पुलिस को वारंट तामिल कराने के आदेश दिए है।