हैलो बीकानेर। बीकानेर के सैंकड़ों युवाओं को गारंटीड सरकारी नौकरी के सपने दिखाकर लाखों रुपए की फीस ऐंठकर फरार हुए कोचिंग सेंटर संचालक के विरुद्ध कार्यवाही की मांग को लेकर भाजपा नेता सुरेंद्रसिंह शेखावत के नेतृत्व में पीड़ित युवाओं  ने  कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया तथा प्रतिनिधमंडल ने जिला कलेक्टर तथा पुलिस अधीक्षक से मुलाकात कर कार्यवाही की मांग की ।

भाजपा नेता सुरेंद्रसिंह शेखावत ने बताया कि पुलिस भर्ती की कोचिंग के नाम पर जोधपुर निवासी पुलिस अधिकारी की पत्नी द्वारा बीकानेर में अर्जुन क्लासेज के नाम से कोचिंग सेंटर खोला गया था जिसमे युवाओं को पुलिस में गारंटीड सलेक्शन के नाम पर मोटी फीस वसूल की जाती थी । एक माह पहले सेंटर संचालक  सैंकड़ों बेरोजगारों की फीस बटोर कर सेंटर को ताला लगाकर फरार हो गए । उसके बाद से ही ठगी के शिकार हुए नौजवान भटक रहे है , न तो पुलिस कोई कार्यवाही कर रही , न ही कोचिंग सेंटर संचालकों से सम्पर्क हो पा रहा है ।

आज पीड़ित युवाओं ने कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन सौपकर फीस वापिस करवाने , दोषियों के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही करने एवम राज्य के दूसरे जिलों में बेरोजगारों को इस लूट से बचाने की मांग की । प्रतिनिधिमंडल में अशोक नायक, मुकरम अली, अनिल कुमार, महेन्द्र चौधरी, मोहित चौधरी, बिश्नाराम जाट शामिल हुए ।

उल्लेखनीय है कि अर्जुन क्लासेज के नाम से बीकानेर सहित जोधपुर सीकर और उदयपुर में पुलिस भर्ती की तैयारी के कोचिंग सेंटर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नरेंद्र चौधरी की पत्नी सीमा चौधरी और पिता जयराम पिंडेल जो खुद रिटायर्ड पुलिस सेवा के अधिकारी है द्वारा संचालित किया जाता है । समाचार पत्रों में बड़े बड़े विज्ञापन देकर युवाओं को गारंटीड सलेक्शन के नाम पर प्रलोभन दिया जाता है ।