Websity

बीकानेर hellobnikaner.com कोरोना वायरस को महामारी घोषित किए जाने के बाद राज्य सरकार द्वारा लॉक डाउन कर दिया गया है ऐसे में आमजन को किसी तरह की परेशानी ना हो इस बात को मध्य नजर रखते हुए जिला मजिस्ट्रेट कुमार पाल गौतम में संपूर्ण व्यवस्था चाक-चैबंद रखने के लिए 10 प्रकोष्ठ का गठन किया गया है। प्रकोष्ठ में भारतीय प्रशासनिक सेवा तथा राजस्थान प्रशासनिक सेवा के वरिष्ठ अधिकारियों को अलग-अलग जिम्मेदारी सौंपी गई है।

जिला मजिस्ट्रेट द्वारा जारी आदेश में सामान्य प्रकोष्ठ का प्रभारी अतिरिक्त जिला कलक्टर ए एच गौरी को बनाए गए हैं, सामान्य प्रकोष्ठ आयुक्त नगर निगम खुशाल यादव, कानून व्यवस्था के लिए अतिरिक्त जिला कलक्टर सुनीता चैधरी को भामाशाह से प्राप्त होने वाली खाद्य सामग्री का वितरण और भंडारण के लिए भोजन सामग्री प्रकोष्ठ का गठन किया गया है। इसके प्रभारी जिला रसद अधिकारी यशवंत भाकर है। जिला मुख्यालय सहित उपखंड मुख्यालय पर विभिन्न धर्मशालाओं, होटलों, सामुदायिक भवन इत्यादि की सूची बनाने और व्यवस्थाओं के लिए आवास व्यवस्था प्रकोष्ठ का गठन किया गया है, जिसके प्रभारी सचिव नगर विकास न्यास बीकानेर मेघराज सिंह मीणा को बनाया है।

कुमार पाल गौतम द्वारा जारी आदेशों में बताया गया है कि लॉक डाउन के दौरान जिला मुख्यालय पर आवश्यक वाहनों की अनुमति देना, जिले से बाहर जाने वाले वाहनों की अनुमति देना आदि के लिए वाहन व्यवस्था प्रकोष्ठ का गठन किया गया है जिसके प्रभारी क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ज्ञानदेव विश्वकर्मा, मास्क, सैनिटाइजर इत्यादि की उपलब्धता एवं सभी संगठनों से आवश्यक मात्रा में मास्क तैयार करवाने के लिए सचिव नगर विकास न्यास को दवाओं व जांच के लिए गठित प्रकोष्ठ का प्रभारी पीबीएम अस्पताल के अधीक्षक डॉ पीके बेरवाल होंगे।

बीकानेर लॉक डाउन : भोजन ना मिले तो इन नम्बरों पर करें सम्पर्क

इसी तरह प्रचार प्रसार प्रकोष्ठ के प्रभारी उप निदेशक सूचना एवं जनसंपर्क विकास हर्ष होंगे तथा जिले में कोरोना वायरस के दौरान लॉक डाउन की अवधि में विभिन्न प्रकोष्ठ आमजन की सुविधा के लिए 24 घंटे चलने वाले नियंत्रण कक्ष प्रकोष्ठ प्रभारी उपनिदेशक महिला एवं बाल विकास विभाग शारदा चैधरी होगी। वही ग्रामीण क्षेत्र में विकास अधिकारी से समन्वय स्थापित करने हेतु ग्रामीण प्रकोष्ठ का गठन किया गया है जिसके प्रभारी मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद बीकानेर को बनाया गया है।

बीकानेर जिला कलक्टर ने उद्यमियों से की अपील: कार्मिकों को छुट्टियों का भी पूरा वेतन दें उद्यमी, छंटनी ना करें 

12 हजार 100 पैकेट प्रतिदिन होंगे उपलब्ध-

जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने बताया कि कोरोना वायरस के बाद उत्पन्न स्थिति पर बीकानेर शहर की विभिन्न संस्थाओं के साथ बैठक की गई बैठक में पदाधिकारियों ने बताया कि प्रतिदिन 4 संस्थाएं मिलकर 12 हजार 100 भोजन पैकेट प्रशासन को उपलब्ध करवा देगी, प्राप्त पैकेट 3 स्थानों के अतिरिक्त घर घर पहुंचा जाएगा। उन्होंने बताया कि सेटेलाइट अस्पताल, मटका गली, रेलवे स्टेशन के पास  तथा बीछवाल फायर स्टेशन तथा रैन बसेरों पर भी 50 पैकेट रखे जाएंगे। गौतम ने बताया कि इसके साथ ही भोजन के पैकेट जरूरतमंद लोगों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए भी तीन मोबाइल वैन जिला रसद अधिकारी के नियंत्रण में रहेगी जिनके माध्यम से कंट्रोल रूम पर जैसे ही सूचना उपलब्ध होगी कि भोजन की जरूरत है वहां तत्काल पहुंचा दिया जाएगा।

गौतम ने बताया कि आज की बैठक में पेडीवाल भोजनालय, पीबीएम हॉस्पिटल में स्थित 6 हजार पैकेट प्रतिदिन, राजपूत सभा द्वारा 5 हजार पैकेट प्रतिदिन, कम्युनिटी वेलफेयर सोसायटी द्वारा 1 हजार पैकेट प्रतिदिन,  गिरधारी लाल चैधरी जूनागढ़ के सामने 100 पैकेट प्रतिदिन जिला प्रशासन को उपलब्ध करवा देगा। गौतम ने बताया कि प्रशासन की मंशा है कि किसी भी व्यक्ति को भूखे नहीं सोने दिया जाएगा, इसके साथ ही ऐसे लोगों को भी चिन्हित किया जा रहा है जो भोजन पका तो सकते हैं मगर रो मेटेरियल खरीदने की स्थिति में नहीं है ऐसे परिवारों को चिन्हित कर उन्हें राशन उपलब्ध करवाया जाएगा ताकि वे लोग अपने घर में बैठकर बना कर खा सकें। इसके लिए भी विभिन्न संस्थाओं जरूरत के मुताबिक राशन पैकेट उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया है।