-मुकेश पूनिया-
बीकानेर (हैलो बीकानेर न्यूज़)। जिले के नजदीकी जामसर गांव में बीते शनिवार की रात विवाहिता नजमा बानों की संगीन हालातों में हुई सनसनीखेज हत्या की तहकीकात में पुलिस ने चौंकाने वाला खुलासा किया है,तफ्तीश में पता चला कि मृतका २५ वर्षीय नजमा बानो से गांव के फजलशाह उर्फ वकील शाह और अमीनशाह वगैरहा ने संबंध बना रखे थे,जो अमूमन नजमा के घर आते जाते रहते थे,गांव में इनका दबदबा था इसलिये नजमा बानों के पति और बच्चियां भी इनका विरोध करने से घबराते थे।

वारदात की रात फजलशाह उर्फ वकील शाह और अमीनशाह साथ एक तीसरा जना भी नजमा के घर आ पहुंचे और उसके हम बिस्तरी का दबाव बनाया तीनों जनों को एक साथ देखकर नजमा ने हम बिस्तरी से मना कर दिया तो गला दबाकर उसकी हत्या कर दी और फरार हो गये। वारदात के वक्त घर में मौजूद नजमा की छोटी बच्ची ने तीनों जनों को हत्या करते देख लिया लेकिन डर के मारे किसी को कुछ नहीं बताया। अगले दिन सुबह नजमा अपने बिस्तर पर मृत हालत में मिली तो परिवार के लोगों ने समझा कि सिर में लगी पुरानी चोट के कारण उसकी मौत हुई है और आपसी सहमति के बाद शव का दफना दिया।

लेकिन शाम वारदात की चश्मदीद रही छोटी बच्ची ने अपने मामा और नाना वगैरहा के सामने नजमा के कत्ल का राज खोलते हुए वारदात की रात हुई सारी कहानी बंया कर दी। इसका पता चलने पर नजमा के सगे भाई अशफाक ने जामसर थाने में दरख्वास्त पेश कर हत्या का केस दर्ज करवा दिया। पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच तफ्तीश शुरू कर दी और एसडीएम के निर्देश पर मृतका का शव कब्र से निकलवाकर उसका पोस्टमार्टम करवाया।

पुलिस की इस कार्यवाही से मुलजिम भी घबरा कर फरार होने वाले थे,लेकिन थाना प्रभारी अमरसिंह ने सजगता दिखाते हुए आरोपी अमीनशाह पुत्र जमालशाह तथा फजलशाह उर्फ वकील शाह पुत्र सवाईशाह को गिरफ्तार कर लिया,इनके साथ शामिल तीसरा मुलजिम अभी हत्थे नहीं चढा है पुलिस सरगर्मी से उसकी तलाश में जुटी है। थाना प्रभारी ने बताया कि गिरफ्तार मुलजिमों को न्यायालय में पेश कर रिमांड पर लिया जायेगा और इस संगीन वारदात से जुड़े अहम तथ्यों के संबंध में पूछताछ की जायेगी।