नाल में वैभव रीपैकर्स नाम से चल रहा था बड़ा गोरखधंधा 
टनों नकली घी व पाम ऑयल बरामद
हैलो बीकानेर। बड़े-बड़े जार, बॉयलर, स्वचालित पैकिंग मशीन, आधा दर्जन घी ब्राण्डों के कई ट्रक भर खाली-भरे डिब्बे, रासायनिक रंग-एसेंस और टनों नकली घी, उस पर घी में मरे चूहे। सेहत के साथ बड़े पैमाने पर हो रहे ऐसे खिलवाड़ को देख हतप्रभ रह गया स्वास्थ्य विभाग का दल। बीछवाल पुलिस की सूचना पर ताबड़-तोड़ कार्यवाही करते हुए स्वास्थ्य विभाग के दल ने मंगलवार को नाल बाई पास क्षेत्र में नकली घी फैक्ट्री का भांडा फोड़ किया। गंगाशहर निवासी अशोक उपाध्याय की फैक्ट्री में धड़ल्ले से नकली देशी घी बनाने व डिब्बों में पैक कर मार्केट में बिक्री के लिये भी तैयार करने का काम किया जाता था। नाल थानाधिकारी व सीएमएचओ डॉ. देवेन्द्र चैधरी के नेतृत्व में हुई इस कार्यवाही में वैभव रीपैकर्स नाम से चल रही फैक्ट्री से टनों नकली घी व पाम ऑयल जब्त किया गया।
स्वास्थ्य विभाग के दल में पीसीपीएनडीटी समन्वयक महेंद्र सिंह चारण व खाद्य सुरक्षा अधिकारी गोपाल शर्मा शामिल रहे। मौके पर जिला पुलिस अधीक्षक सवाई सिंह गोदारा सहित विभिन्न थानों के थानाधिकारी व भारी पुलिस जाब्ता पहुच गया। पुलिस ने अन्वेषण की कार्यवाही शुरू करते हुए गहन पूछताछ की। कच्चा माल कहाँ से आता है और तैयार माल कहाँ व किस नेटवर्क से भेजा जाता है इसकी तह तक जाकर पश्चिमी राजस्थान में चल रहे बड़े गोरखधंधे का खुलासा होने के आसार है। फैक्ट्री के बाद गंगाशहर स्थित गोदाम पर भी छापेमारी की कार्यवाही कर दूषित व नकली घी बरामद किया गया।
आधा दर्जन घी ब्राण्डों का नकली माल
सीएमएचओ डॉ. देवेन्द्र चैधरी ने बताया कि फैक्ट्री में वैभव, उत्सव, अर्पण, गौरव, अनुज व ज्योति घी जैसे ब्राण्ड के खाली-भरे डिब्बे, टिन व पैकिंग सामान बरामद हुआ।  200 ग्राम से लेकर एक किलोग्राम तक के खाली-पैक डिब्बे व बड़े टिन बरामद हुए हंै। एफएसओ द्वारा नकली घी का नमूनीकरण किया गया जिसे जांच के लिए जयपुर लैब भेजा जाएगा।

2 COMMENTS

  1. Great post. I used to be checking continuously this blog and I am impressed! Extremely helpful information particularly the ultimate part 🙂 I deal with such info a lot. I was looking for this particular information for a very long time. Thank you and good luck.

LEAVE A REPLY