हैलो बीकानेर न्यूज़ । गुजरात के सुरेंद्र नगर में शनिवार से शुरू हुए दूसरे दो दिवसीय नेशनल सांइस टेक्नो फेअर में श्री गोपेश्वर विद्यापीठ सैकंडरी स्कूल के समन्वयक गिरिराज खैरीवाल को सांइस के उल्लेखनीय प्रचार प्रसार के लिए राष्ट्रीय स्तर पर एप्रीशिएट अवार्ड से सम्मानित किया गया है।
भारत सरकार के उपक्रम विज्ञान प्रसार नेटवर्क अॉफ सांइस क्लब्स, डॉ एपीजे अब्दुल कलाम नेशनल काउंसिल ऑफ यंग साइंटिस्ट, रमन सांइस एंड टेक्नोलॉजी फांउडेशन, गुजरात,
श्री सुरेंद्र नगर जिला कडवा पाटीदार केलवानी मंडल एवं आल इंडिया रामानुजन मैथ्स क्लब, राजकोट, गुजरात द्वारा राजकीय के पी गर्ल्स स्कूल के सभागार में आयोजित उद्घाटन समारोह में विज्ञान प्रसार नेटवर्क अॉफ सांइस क्लब्स अॉफ इंडिया के हैड सीनियर साइंटिस्ट डॉ अरविन्द सी रानाडे, सुरेंद्र नगर के विधायक धनजी भाई पटेल, गुजरात अनारक्षित वर्ग विकास निगम के चेयरमैन वसंत भाई पटेल, नेशनल कौंसिल अॉफ टीचर्स साइंटिस्ट, नई दिल्ली, के चेयरमैन डॉ दीपक सिन्हा, अंतरराष्ट्रीय मैथ्स गुरु एवं अॉल इंडिया रामानुजन मैथ्स क्लब के निदेशक इंजीनियर बी एन राव, विश्व प्रसिद्ध सीनियर वैज्ञानिक तथा इंडियन प्लेटिनिरियम सोसायटी, मुंबई के अध्यक्ष डॉ. जे जे रावल , विश्व प्रसिद्ध सीनियर वैज्ञानिक डॉ चंद्रमोहन नोटियाल, इसरो के सीनियर साइंटिस्ट डॉ भरतभाई चनियारा, रमन सांइस एंड टेक्नोलॉजी फांउडेशन के डायरेक्टर डॉ शांति लाल बोरानिया, अॉल इंडिया रामानुजन मैथ्स क्लब, राजकोट के चेयरमैन डॉ चंद्रमौली जोशी, सिम्बोयसिस विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ ब्रजेश पांडे, श्री सुरेंद्र नगर जिला कडवा पाटीदार केलवानी मंडल के अध्यक्ष वसंत भाई पटेल व सचिव एन के जकासानिया द्वारा यह अवार्ड दिया गया। खैरीवाल के अलावा यह अवार्ड मोरबी के जिला कलक्टर रमेश कुमार मकडिया, क्राइम ब्रांच, गांधी नगर के एसपी राजेश घढिया, लालपुर के डेप्युटी कलक्टर जितेंद्र कुमार बुरानिया, अहमदाबाद अरबन डवलपमेंट अथॉरिटी के डेप्युटी कलेक्टर धर्मेश पटेल, नेशनल काउंसिल ऑफ टीचर्स साइंटिस्ट के चेयरमैन डॉ दीपक सिन्हा, सौराष्ट्र विश्व विद्यालय के एजूकेशन डिपार्टमेंट के हैड डॉ भरत रामानुजन, टेक्नीकल इंजीनियरिंग अॉफीसर डा विजय भाई एवं श्री कृष्णा बाल निकेतन, डेह, नागौर के निदेशक कालूसिंह बडगूजर को विज्ञान के क्षेत्र में प्रचार प्रसार व उल्लेखनीय कार्य के लिए इन सब की उत्कृष्ट सेवाओं को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया है। रमन सांइस एंड टेक्नोलॉजी फांउडेशन, राजस्थान के डायरेक्टर मोहनराम ईनाणिया ने बताया कि इस अवसर पर सी वी रमन अवार्ड अंतरराष्ट्रीय साइंटिस्ट डॉ सी एम नोटियाल को तथा डा विक्रम साराभाई अवार्ड सिंबॉइसिस विश्वविद्यालय, पुणे के प्रोफेसर डॉ ब्रजेश पांडे को दिया गया। डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम यंग साइंटिस्ट अवार्ड झारखंड के युवा शिक्षक वैज्ञानिक आलोक को प्रदान किया गया। इस अवसर पर डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम अवार्ड और बेस्ड सांइस टीचर अवार्ड भी प्रदान किए गए।कार्यक्रम का शुभारंभ सर्वधर्म प्रार्थना के साथ हुआ। राजस्थान की ओर से मारवाड़ मूंडवा की वागीश्वरी विद्यापीठ की बालिकाओं ने केसरिया बालम नृत्य की प्रस्तुति दी। फेअर में 19 राज्यों के सैंकड़ों शिक्षक व विद्यार्थी सम्मिलित हो रहे हैं। इस अवसर पर विपनेट के नेशनल हैड डॉ अरविन्द सी रानाडे ने अटल टिंकरिंग लैब का उद्घाटन फीता काटकर किया। इस अवसर पर विज्ञान प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया।  विज्ञान क्विज, डिबेट, भाषण इत्यादि कॉम्पिटिशन भी इस अवसर पर आयोजित किए गए। फेअर का समापन रविवार को होगा।
खैरीवाल का रविवार सुबह साढे आठ होगा स्वागत 
गिरिराज खैरीवाल की इस राष्ट्रीय उपलब्धि अर्जित कर रविवार को बीकानेर आगमन पर गोपेश्वर महादेव मंदिर में सुबह साढे आठ बजे विभिन्न संस्थाओं की तरफ से स्वागत किया जाएगा। स्वागत समारोह के संयोजक गिरिराज आचार्य ने बताया कि खैरीवाल सड़क मार्ग द्वारा सुबह साढे आठ बजे गंगाशहर पहुंचेगें। इस अवसर पर उनका विभिन्न संस्थाओं द्वारा स्वागत किया जाएगा।