बीकानेर। राजस्थान में गत दिनों हुए उपचुनाव में अलवर और अजमेर लोकसभा सीट के साथ ही मांडलगढ़ विधानसभा पर हुए उपचुनाव में कांग्रेस ने बीजेपी को करारी हार से सबक लेते हुए भाजपा पूरी तरह से चुनावी मोड में दिख रही है। आलाकमान के निर्देश पर राजस्थान भर में शीघ्र ही मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी दौरे करेंगे। भाजपा के प्रदेशस्तर के पार्टी पदाधिकारी प्रत्येक जिले में जाकर कार्यकर्ताओं से फीडबैक लेंगे। इसी कड़ी में पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष परनामी 22 से 24 मार्च तक बीकानेर में रहकर जिले के सातों विधानसभा क्षेत्रों की अलग-अलग मीटिंगें करेंगे। प्रत्येक मीटिंग में 50 से 60 प्रमुख पदाधिकारी, पूर्व-वर्तमान विधायक, अध्यक्ष समेत प्रमुख लोगों को बुलाया गया है। विधानसभावार होने वाली मीटिंगों का फीडबैक एक प्रफोर्मा में भरा जाएगा। जो प्रफोर्मा सामने आया है उसके अनुसार प्रत्येक विधानसभा में मौजूद कुल मंडल, गठित कार्यकारिणी, कुल शक्ति केंद्र, गठित केंद्र, बूथ, कमजोर बूथ, चुनौतियां, संभावनाएं और कमजोरियां आदि इसमें दर्ज होंगे। उधर पार्टी के शहर महामंत्री मोहन सुराणा ने बताया कि प्रदेशाध्यक्ष का बीकानेर आगमन की सूचना मिल गयी है, पार्टी कार्यकर्ता खुश है, उनमें उत्साह का संचार हुआ है।बीकानेर शहर के हालात ये है की जब मेयर किसी वार्ड में काम शुरू करवाता है तो मेयर से नाराज चल रहे पार्षद उस काम को रुकवा देते है ऐसे कई काम बीकानेर के वार्डो में रुके पड़े है। मेयर और पार्षदों के बीच की नाराजगी का समाधान के लिए बीकानेर के नेताओं ने प्रदेश अध्यक्ष के साथ जयपुर में मीटिंग इस मामले का समाधान करने की जरूरत जताई  उस मीटिंग में प्रदेश अध्यक्ष में खुद बीकानेर आ कर बात करने का आश्वासन दिया था ऐसे में अनुमान है कि इस बार पार्षद-मेयर-डिप्टी मेयर और प्रशासन के बीच बने गतिरोध को तोड़ने में सफलता मिलेगी । 

LEAVE A REPLY