Websity

बीकानेर। चार दिन से लापता बालक आज जोधपुर में मिल गया है। लूणकरनसर पुलिस थाना क्षेत्र के हंसेरा गांव निवासी सात वर्षीय बालक राहुल सिद्ध नोखा जाने के लिए 11 मार्च को दुलमेरा स्टेशन स्टेशन से ट्रेन संख्या 59705 सूरतगढ़-जयपुर में चढ़ा था, लेकिन राहुल नोखा उतरने की बजाय जोधपुर रेलवे स्टेशन पर उतर गया।युवा समाज सेवी प्रहलाद जोशी ने जानकारी देते हुए बताया कि बीती रात को दस बजे जोधपुर रेलवे स्टेशन से एक ट्रेन चालक का फोन आया और बताया कि इस बालक को उसने जोधपुर रेलवे स्टेशन पर घुमते देखा था।

इस सूचना पर राहुल के परिजन रातों-रात जोधपुर रेलवे स्टेशन पहुंचे। जहां जीआरपी पुलिस की सहायता से रेलवे स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाले जाने की तैयारी थी कि वहां की चाइल्ड लाइन हेल्प संस्था से सूचना मिली उनका बालक उनके पास है चिंता मत कीजिएगा। उसके बाद चाइल्ड लाइन हेल्प के अधिकारियों ने बालक राहुल को जीआरपी पुलिस को सुपुर्द कर दिया। जहां पुलिस ने राहुल को परिजनों को मिलाया और उसके बाद राहुल को अपनी मां से फोन के जरिए बात करवाई।

…..तो इसलिए प्रदेश में बंद रहेंगे स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर, जिम, सिनेमाघर 30 मार्च तक

अब दाननाथ का कहना है कि राहुल घबरा गया है इसलिए वह बहकी-बहकी बातें कर रहा है। इसलिए चाइल्ड लाइन हेल्प संस्था के अधिकारी राहुल का मेडिकल चेकअप करवाने के लिए अस्पताल लेकर गए है। उसके बाद ये लोग बालक को वहां के स्थानीय कोर्ट में पेश करेंगे। कल यानी रविवार को अवकाश होने के कारण राहुल को सोमवार को कोर्ट में पेश किया जाएगा। जहां काउसलिंग होने के बाद कोर्ट राहुल को जीआरपी पुलिस को सुपुर्द करेगी। वहां से बीकानेर जीआरपी पुलिस राहुल को बीकानेर लेकर आएगी। जहां जीआरपी पुलिस फिर कोर्ट में पेश करेगी। उसके बाद राहुल को परिजनों को सुपुर्द किया जाएगा। दाननाथ के अनुसार इस प्रक्रिया में कम से कम चार-पांच दिन लग जाएंगे।