सूत्रों के मुताबिक भाजपा गुजरात में उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड वाली रणनीति अपना रही है जिसके तहत बड़ी संख्या में दूसरे दलों से आए नेताओं को टिकट दिए गए थे गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के लगभग 14 बागी विधायक भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं. सूत्रों के मुताबिक भाजपा को लगता है कि इस तरह कांग्रेस की संभावना उसकी अपनी जीती हुई सीटों पर ही कम करने में सफलता मिलेगी.

द टाइम्स ऑफ इंडिया से बातचीत में भाजपा के एक नेता कहते हैं, ‘लगभग 12 कांग्रेसी विधायकों का तो भाजपा उम्मीदवार बनना तय है. जबकि दो विधायक- शंकर सिंह वाघेला और उनके पुत्र महेंद्र अलग दल बनाकर भाजपा से गठबंधन कर सकते हैं. इनके अलावा पाटीदार अमानत आंदोलन समिति के करीब 70 नेता जल्द भाजपा में शामिल हो सकते हैं. इसमें पाटीदार आंदोलन के प्रमुख हार्दिक के नज़दीकी सहयोगी शामिल हैं.’

सूत्रों के मुताबिक जो नेता या विधायक भाजपा में आ रहे हैं उन सबका अपना जनाधार है. वे अपनी सीट तो जीतने की कोशिश करेंगे ही साथ में भाजपा के खाते में भी कुछ अतिरिक्त वोट भी जोड़ेंगे. इससे कांग्रेस की चुनौती को ध्वस्त करने में मदद मिलेगी. ख़बर के मुताबिक भाजपा गुजरात में उसी तरह की रणनीति अपना रही है जो उसने उत्तर प्रदेश- उत्तराखंड आदि में अपनाई थी जहां बड़ी संख्या में दूसरे दलों से आए नेताओं को टिकट दिए गए थे.

2 COMMENTS

  1. Hi! Quick question that’s entirely off topic. Do you know how to make your site mobile friendly? My web site looks weird when viewing from my iphone. I’m trying to find a template or plugin that might be able to correct this problem. If you have any suggestions, please share. Cheers!

LEAVE A REPLY

*

code