जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में चार थाना क्षेत्रों में लगा कर्फ्यू दूसरे दिन भी जारी रहा वहीं घटना के समय मारे गये युवक के शव का आज भी पोस्टमार्टम नहीं हो सका।
जिला कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन ने बताया कि शव के पोस्टमार्टम के लिये परिजनों के साथ दो दौर की बातचीत हो चुकी है और परिजनों ने बातचीत पर संतोष जताते हुये कुछ समय बाद सहमति देने का आश्वासन भी दिया है लेकिन अभी तक उनकी ओर से कोई जवाब नहीं मिला है।
इसी बीच जिला प्रशासन ने आज कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्रों के नागरिकों की जरूरतों को देखते हुये दूध और ब्रेड का वितरण किया। प्रशासन द्वारा की गयी यह व्यवस्था अपर्याप्त रही। खाद्य सामग्री के लिये जुटी भीड़ में कई लोगों को सामग्री नहीं मिलने से निराश होकर लौटना पडा।
प्रशासन ने कर्फ्यूग्रस्त क्षेत्राें में संचालित स्कूल एवं कालेजों को कल बंद रखने तथा इंटरनेट सेवाओं को कल रात बारह बजे तक बंद रखने की घोषणा की है। आधिकारिक सूत्रों के अनुसार प्रशासन के साथ के परिजनों की आज हुयी बातचीत में परिजन को बीपीएल सूची में चयनित करने, रोजगार के लिये दूध डेयरी खुलवाने, विधवा पेंशन , वृद्धावस्था पेंशन जारी कराने और सरकारी नियमों के तहत मिलने वाली सुविधा दिलाने पर बात हुयी।
मुस्लिम मुसाफिर खाने में करीब दो दर्जन मुस्लिम संगठनों ने पत्रकारों से कहा कि एक करोड़ रूपये , सरकारी नौकरी और न्यायिक जांच की मांग को पूरा नहीं करने तक शव का पोस्टमार्टम नहीं कराया जायेगा और कल से अनिश्चितकालीन धरना भी दिया जायेगा।
उधर मुस्लिम वर्ग के एक प्रतिनिधिमंडल ने इस मामले को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी से भी मुलाकात की हैं। 

LEAVE A REPLY