नेपाल के उप प्रधानमंत्री और गृह मंत्री श्री बिमलेंद्र निधि ने आज यहां गृह मंत्री श्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की।

राजनाथ सिंह ने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में भारत-नेपाल सीमा पर हाल ही में हुई नेपाली नागरिक की मृत्यु पर शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा कि भारत सरकार इस घटना की स्वतंत्र और निष्पक्ष जांच करवाएगी तथा नेपाल सरकार के साथ सहयोग कर सच जानने की कोशिश करेगी। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि जहां भी भू-भाग के नक्शे (स्ट्रिप मैप) को अंतिम रूप दिया गया है, उस पर जल्द से जल्द संबंधित अधिकारियों के हस्ताक्षर करवाने चाहिए।

राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों देशों के बीच सुरक्षा और सीमा सहयोग सहित कई क्षेत्रों में मित्रवत और परिवार जैसे संबंध हैं। श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अनजाने में भी अगर कोई घटना घटती है तो दोनों पक्षों के प्रतिनिधियों द्वारा संयुक्त परीक्षण और जांच के जरिए मामले को निपटाना चाहिए। गृह मंत्री ने सीमा सुरक्षा बल (एसएसबी) के महानिदेशक और नेपाल के सशस्त्र पुलिस बल (एपीएफ) के महानिदेशक के बीच नियमित बैठकें करने का भी आग्रह किया।

इस बैठक में केंद्रीय गृह सचिव श्री राजीव महर्षि, भारत में नेपाल के राजदूत श्री दीप कुमार उपाध्याय और गृह तथा विदेश मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY