नागौर: प्रदेश के नागौर जिले के मकराना में पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कल जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने भाषण के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला।  अशोक गहलोत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी के समय कहा था मुझे 50 दिन दे दीजिए मै सब ठीक कर दूंगा  कि यदि यदि सब कुछ ठीक न हो तो जनता मुझे चौराहे पर खड़ा कर लटका देना। अब लोग चौराहे पर खड़े नरेंद्र मोदी का इंतजार कर रहे हैं।  गहलोत ने कहा की हमे लटकाना नहीं है शिर्फ़ सवाल जवाब पूछने है।

गहलोत मोदी के खिलाफ यही नहीं थमे, गहलोत ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री मोदी अपनी मां और जाति का नाम आते ही सहानुभूति बटोरने लगते है। लेकिन खुद इस बात का ध्यान नहीं रखते है की वे किन शब्दों से कांग्रेस के आला नेताओ को सम्बोधित करते रहे है।

वहीं अशोक गहलोत ने अपने सम्बोधन में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और भाजपा के राष्ट्रिय अध्यक्ष अमित शाह के रिश्तो को लेकर भी कटाक्ष किया। उन्होने आरोप लगाया की चुनाव से पहले एक दूसरे को पसंद नहीं करने वाले दोनों नेता आज एक दूसरे के सामने झुके हुए है।  गहलोत ने अमित शाह के पुत्र पर भी नोटबंदी के दौरान करोड़पति बनने का आरोप जड़ते हुए कहा कि अमित शाह को करोड़पति बनने का फार्मूला देश के बेरोजगार नौजवानों को भी बताना चाहिए।

साथ ही बेरोजगारी के मुद्दे पर बीजेपी को घेरते हुए गहलोत ने बीजेपी पर आरोप लगाया की राजस्थान और केंद्र की सत्ता पर काबिज भाजपा की नीतियों के चलते बेरोजगार युवा आत्महत्या को मजबूर हो रहे है।  गौरतलब है कि कुछ ही दिन पहले 4 दोस्तों ने नौकरी न मिलने की वजह से ट्रने के आगे कूद गए थे जिसमें 3 युवकों की जान मौके पर ही चली गई थी और चौथे युवक ने अस्पलात में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था।