पश्चिम मध्‍य बंगाल की खाड़ी में स्थित अत्यधिक भीषण चक्रवाती तूफान फोनी’ पिछले 6 घंटों के दौरान 15 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से से उत्‍तर-उत्तर पूर्व की ओर बढ़ गया है और 2 मई, 2019 को 08:30 बजे यह 16.2 डिग्री उत्‍तरी अक्षांश तथा 84.6 डिग्री पूर्वी देशांतर पर स्थित है, जो पुरी (ओडिशा) से 420 किलोमीटर के दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में,विशाखापत्तनम (आंध्र प्रदेश) से 210 किलोमीटर दक्षिण और दक्षिण पूर्व में तथा दीघा (पश्चिम बंगाल) से 610 किलोमीटर दूर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम में स्थित है। इस बात की प्रबल संभावना है कि यह उत्तर-उत्तर पूर्व की ओर बढ़ेगा और 3 मई को दोपहर में चांदबाली और गोपालपुर के बीच ओडिशा तट को पार करेगा। इस दौरान 170-180 किलोमीटर प्रति घंटे की तेज रफ्तार से हवाएं चल सकती है, जिनकी गति बढ़कर 200 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंच सकती है।

भारी बारिश की चेतावनी

  • उत्तर आंध्र प्रदेश : 2 मई को अधिकांश स्थानों पर हल्की वर्षा तथा विशाखापत्तनम और विजयनगरम जिलों के कुछ स्थानों पर भारी से अत्यधिक भारी वर्षा की संभावना तथा श्रीकाकुलम के कुछ स्थानों पर अत्यधिक भारी वर्षा (20 सेमी से अधिक) और 3 मई को श्रीकाकुलम जिले के कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा की संभावना है।
  • ओड़िशा : 2 मई को दक्षिणी तटीय और निकटवर्ती आंतरिक ओड़िशा में अधिकांश स्थानों पर हल्की वर्षा तथा गंजम और गजपति जिलों के कुछ स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा की संभावना है। 3 मई को अधिकांश स्‍थानों पर वर्षा होगी और  तटीय ओड़िशा और निकटवर्ती आंतरिक भागों के कुछ स्थानों पर भारी वर्षा होगी। 4 मई को उत्तरी ओड़िशा के बालासोर और मयूरभंज जिलों के कुछ स्‍थानों पर बहुत तेज बारिश होने की संभावना है।
  • पश्चिम बंगाल : 3 मई को पश्चिम बंगाल के तटीय और उसके आसपास के जिलों में अधिकांश स्‍थानों पर हल्की बारिश होने तथा कुछ स्‍थानों पर भारी से अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है। 4 मई को गंगा तटीय स्थानों में भारी वर्षा होने की संभावना है। 4 मई को उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम के अधिकांश स्थानों पर हल्की तथा कुछ स्थानों पर बहुत तेज बारिश होने की संभावना है।
  • अरूणाचल प्रदेश, असम एवं मेघालय : 4 और 5 मई को अरूणाचल प्रदेश, असम और मेघालय में अधिकांश स्‍थानों पर बारिश होने तथा कुछ स्‍थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है। 4 मई को असम एवं मेघालय के कुछ स्थानों पर बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। 4 मई को ही नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के अधिकांश स्थानों पर हलकी वर्षा तथा कुछ स्थानों पर भारी बारिश होने की संभावना है।
  1. तूफान की चेतावनी
  • अगले 24 घंटों के दौरान बंगाल की खाड़ी के पश्चिम मध्य भाग में, तूफान की गति  180-190 किलोमीटर प्रति घंटे रहेगी। इसकी रफ्तार 210 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंचने की आशंका है। इसके बाद तूफान की गति में कमी आएगी।
  • उत्तरी आंध्र प्रदेश और ओडिशा के तटवर्ती इलाकों में 30-40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चलेंगी और इसकी गति 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक पहुंचने की संभावना है। 2 मई की रात से तूफान की गति 60-70 किलोमीटर से लेकर 85 किलोमीटर तक पहुंचने की संभावना है। दक्षिण ओडिशा और निकटवर्ती उत्तरी आंध्र प्रदेश (श्रीकाकुलम) के तटीय क्षेत्रों में तूफान की गति 170-180 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी तथा यह बढ़कर 200 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच सकती है। 3 मई की दोपहर से अगले 12 घंटों तक तटीय ओडिशा के शेष जिलों तथा उत्तरी आंध्र प्रदेश (विशाखापत्तनम और विजयनगर जिले) में तूफान की गति 90-100 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंचने की संभावना है। तूफान की गति 115 किलोमीटर प्रति घंटा तक होने की आशंका है।
  1. 2 मई की शाम से पश्चिमी बंगाल के तटीय क्षेत्रों में 40-50 किलोमीटर प्रति घंटा की गति से तेज हवाएं चलेंगी। हवाओं 60 किलोमीटर प्रति घंटा तक बढ़ने की संभावना है। 3 मई की दोपहर , 60-70 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तूफान चलने की संभावना है जिसकी गति बढ़कर 85 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है। 4 मई की सुबह से अगले 12 घंटों तक 90-115 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तूफान चलने की संभावना है जिसकी रफ्तार बढ़कर 115 किलोमीटर प्रति घंटा तक हो सकती है।