जिला स्तरीय जनसुनवाई आयोजित

बीकानेर। जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम ने शहर में चल रही अवैध डेयरियों व असहाय पशुओं से उत्पन्न समस्या का समाधान करने के निर्देश निगम और नगर विकास न्यास को दिए है। उन्होंने कहा कि असहाय पशुओं की वजह से शहर में स्थिति बहुत खराब है। उन्होंने कहा कि असहाय पशुओं को जो गौशाला लेने से मना करती है तो पशुपालन विभाग द्वारा दिया जा रहे अनुदान को रोका जाए।
गौतम ने गुरूवार को भारत निर्माण राजीव सेवा केन्द्र में आयोजित जिला जन अभाव अभियोग निराकरण सतर्कता समिति की बैठक में रामसिंह चरकड़ा द्वारा शहर से अवैध डेयरियों को हटाने के प्रकरण में दिशा-निर्देश दिए। उन्हांेने जिले में प्राईवेट व सरकारी स्कूलों व कॉलेजों में सुरक्षा मानकों के मामले में शिक्षा विभाग, पुलिस प्रशासन, परिवहन विभाग को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए और कहा कि बच्चों को परिवहन करने वाले वाहनों में सुरक्षा की दृष्टि से सभी उपाय होने चाहिए। ऑटो व स्कूली बस में निर्धारित संख्या में ही बच्चों को बिठाया जाए। निर्धारित क्षमता से अधिक बच्चों ले जाने वाले वाहनों को सख्ती से रोका जाए। उन्होंने कहा कि स्कूली बस और ऑटो के पीछे पुलिस व परिवहन विभाग का नम्बर अंकित करवाया जाए जिससे नियम की पालना नहीं करने वाले वाहनों के बारे में आमजन सूचना दे सके।
नोखा शहर के नवली गेट रेलवे क्रोसिंग पर लगने वाले जाम और मुख्य सदर बाजार की ट्रैफिक समस्या के समधान पर उन्होंने कहा कि बाबा छोटूनाथ विद्यालय के सामने प्राईवेट बसों के ठहराव के प्रस्ताव बनाने के उप खण्ड अधिकारी नोखा को निर्देश दिए। सलीम सौंलकी ने नगर विकास न्यास से मूल पत्रावलियों के गुम होने के दर्ज प्रकरण में उन्होंने यूआईटी सचिव से कहा कि न्यास से पत्रावलियां गायब होना गंभीर मामला है। उन्होंने निर्देश दिए कि न्यास से जितनी भी फाइलें गुम हुई है,उसकी जांच करते हुए पुलिस में मामला दर्ज करवाया जाए। उन्होंने इस मामले में आयुक्त नगर निगम को जांच करने के निर्देश दिए।
डांडूसर के शेराराम, जीवणराम, परमाराम, माणकराम एवं समस्त ग्रामीणों ने जमाबंदी के अनुसार खसरा गिरदावरी तहरीर के मामले में उन्हांेने उपखण्ड अधिकारी बीकानेर,सेटेलमेन्ट,राजस्व एवं यूआईटी की संयुक्त कमेटी को नियमानुसार कार्यवाही सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कर्नल अशोक कुमार सिंह चौहान ने विराट नगर, ज्ञानदीप,डिफेन्स कॉलोनी, भवानी नगर, मरूधर नगर में आधारभूत सुविधाएं दिलाने की मांग पर जिला कलक्टर ने यूआईटी सचिव को इन कॉलोनियों में आरक्षित प्लाट का सर्वे करते हुए नीलामी के निर्देश दिए और नीलामी से मिली राशि से आधारभूत सुविधाओं के विस्तार की बात कही।
जिला कलक्टर ने तेजरासर में सीवर लाइन व गंदे पानी की निकासी, ग्राम रायसर से पेमासर व नगरासर का रास्ता खुलवाने, हंसेरा में प्रधानमंत्री आवास योजना में धोखाधडी के मामले, ग्राम सेवा सहकारी समिति लि.बीठनोक द्वारा गबन के प्रकरण मंे, बीठनोक में नियमविरूद्ध तरीके से बनाए गए कुटरचित पट्टों की जांच के आदेश संबंधित विभागों को दिए। जिला कलक्टर ने कहा कि शहर में जो भी विवाह स्थल बिना पंजीयन के चलाए जा रहे हैं तथा वे सुरक्षा मानकों पर खरे नहीं उतरते हैं, ऐसे विवाह स्थलों की जांच कर नोटिस जारी करने की कार्यवाही की जाए।
जनसुनवाई में लक्ष्मीनाथ मंदिर क्षेत्र निवासी पूनम ने विद्युन कनेक्शन को पुन बहाल करने, राजेडू़ के दानाराम ने गांव की स्कूल के सामने हुए अतिक्रमण को हटाने, अवैध सामान की बिक्री रोकने, ग्राम पलाना की सुशीला इणखिया में कृषि भूमि खाता संख्या 527 खसरा संख्या 213/1 में कम्प्यूटरीकृत रिकॉर्ड जमाबंदी में नाम दुरूस्त करवाने, गुड़ा निवासी अर्जुनराम ने स्वरोजगार योजना में ऋण स्वीकृति, 4 आर एम(रावत माइनर) के ईश्वर राम ने बंद कटान का रास्ता खुलवाने की मांग रखी। मंडाल भाटियान के ग्रामीणों ने कहा कि उनके ग्राम को गोविन्दसर ग्राम पंचायत में मिलाया गया है जो कि 25 किमी दूर है। ग्रामीणों ने इसके स्थान पर गांव को चारणान भाटियान या गडियाला ग्राम पंचायत में मिलाने का ज्ञापन दिया।
बज्जू के ओमप्रकाश ने विकलांग पेंशन समय पर दिलवाने तथा स्वरोजगार के लिए ऋण दिलवाने की, बीकानेर के हनुमानप्रसाद ने नागणेचीजी के नवनिर्मित प्रवेश द्वार के क्षतिग्रस्त टाइल्स व दीवार की मरम्मत करवाने सहित पानी, बिजली, सड़क निर्माण, नामान्तरण, उचित मूल्य दुकान की अनियमितता की जांच आदि के प्रकरण प्रस्तुत किए गए। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त प्रदीप के गवांडे,भ् ाारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी अभिषेक सुराणा, एडीएम प्रशासन ए.एच.गौरी, एडीएम सिटी शैलेन्द्र देवड़ा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।