जयपुर । प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता श्री अभय कुमार ने कहा कि सीएम हैल्पलाईन पोर्टल के लिए सभी सहकारी संस्थाओं से संबंधित शिकायतों के प्रकारों का वर्गीकरण तथा शिकायत निवारण के चारों स्तरों के लिए जिम्मेदार अधिकारियों को चिह्वित किया जाएगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि शिकायतों का वर्गीकरण तथा नामित अधिकारियों से संबंधित जानकारी तत्काल सीएम हैल्पलाईन पर अपडेट करें।
श्री कुमार मंगलवार को शासन सचिवालय में सीएम हैल्प लाईन के संबंध में अब तक संस्थाओं के स्तर पर हुई प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि सीएम हैल्प लाईन राज्य सरकार का आमजन की समस्याओं के त्वरित समाधान के लिए एक महत्वपूर्ण पोर्टल है। इस कार्य में किसी भी स्तर पर लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। यदि किसी संस्था में उक्त कार्य में किसी प्रकार की समस्या आ रही है तो वे तत्काल संयुक्त पंजीयक (आयोजना) से सम्पर्क करें। उन्होंने संयुक्त पंजीयक (आयोजना) को सभी संस्थाओं से प्राप्त होने वाली समस्याओं को तुरन्त दूर करने के लिए निर्देश दिए।
 बैठक में संयुक्त शासन सचिव, सहकारिता श्री सुखवीर सैनी, अपेक्स बैंक के प्रबंध निदेशक श्री विद्याधर गोदारा, तिलम संघ के प्रबंध निदेशक श्री आलोक माथुर, कॉनफैड के प्रबंध निदेशक श्री उत्तम चंद तोषावडा, को-ऑपरेटिव प्रेस के प्रबंध निदेशक श्री आर. पी. मीणा, संयुक्त पंजीयक (आयोजना) श्री संजय गर्ग उपस्थित थे।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY