ब्राह्मण समाज को नई दिशा देने के प्रस्ताव पारित

बीकानेर,। अखिल भारतीय ब्राह्मण परिषद् की प्रदेशाध्यक्ष सुनीता गौड़ की अध्यक्षता में रविवार को रानी बाजार गौड़ सभा भवन में ब्राह्मण समाज के विभिन घटकों की बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में ब्राह्मण समाज की महिलाओं और युवाओं के सशक्तिकरण के लिए प्रस्ताव पारित किया गया। ब्राह्मण समाज के बेरोजगार युवाओं को कर्म काण्ड की शिक्षा से पारंगत किया जाये और आर्थिक रूप से कमजोर की महिलाओं को स्वावलम्बन बनाने के लिए विभिन कार्यक्रम आयोजित करने पर सहमति व्यक्त की गई। इसके लिए प्रत्येक जिले में परशुराम शिक्षण संस्थान की स्थापना की आवश्यकता जताई गई। इसके अलावा बैठक में आर्थिक दृष्टि से कमजोर परिवार के बच्चों को शैक्षणिक सुविधाए प्रदान करने पर जोर दिया गया। एक अन्य प्रस्ताव पारित करके ब्राह्मण समाज के युवक-युवती परिचय सम्मलेन और सामूहिक विवाह जैसे आयोजन करवाये जायेंगे।
खाण्डल विप्र समाज के पूर्व अध्यक्ष श्रीधर शर्मा ने कहा की विधवाओं,गरीब महिलाओं और युवाओं को रोजगार परक प्रशिक्षण देकर रोजगार दिलवाने की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि परशुराम जयंती पर सुखा दिवस घोषित करवाने के लिए मानव श्रृंखला बनाकर नशा मुक्ति के लिए सरकार पर दबाव बनवाया जावेगा। समाज के वरिष्ठ समाज सेवी दामोदर शर्मा ने कहा की युवाओं को स्किल डेवलॅपमेंट का प्रशिक्षण देकर रोजगार दिलवाने के प्रयास किए जाने चाहिए। अखिल भारतीय ब्राह्मण परिषद् के युवा प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष अनिल वशिष्ठ ने परशुराम जयंती पर राजकीय अवकाश घोषित करवाने,पं. गायत्री प्रशाद शर्मा ने ब्राह्मण समाज के युवाओं को ज्योतिष एवं कर्म काण्ड प्रशिक्षण दिलवाने पर जोर दिया। पुष्टिकर समाज के जिला अध्यक्ष सुरेन्द्र व्यास ने कहा की युवक-युवती परिचय सम्मेलन में शिक्षा और रोजगार की समानता का ध्यान रखा जाना चाहिये।
कृषि विश्वविद्याल के पूर्व निदेशक एस. पी पुरोहित ने कहा की ब्राह्मण समाज में सामूहिक विवाह जैसे आयोजन वर्तमान समय की आवश्यकता है।
इस अवसर पर दिनेश पाण्डेय,राधा भार्गव,कामिनी भोजक,संध्या द्विवेदी,सपना तिवाड़ी,इंदू पाण्डेय,किरण तिवाड़ी,जितेंद्र भोजक,पुरषोतम पुरोहित,पं.यज्ञ प्रशाद शर्मा,चार्टेड अकाउंटेंट नवरतन शर्मा,देवाशीष गौड़,अनिल शर्मा,गौरव गौड़,शिव प्रशाद गौड़ सहित समाज के गण मान्य लोग उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY