बिहार के राजनीतिक गलियारे से बड़ी खबर आ रही है। बिहार सीएम नीतीश कुमार ने राज्यपाल केशरीनाथ त्रिपाठी से मिलकर अपना इस्तीफा सौंप दिया है। यानी बिहार में महागठबंधन टूट चुका है। बीजेपी के खिलाफ विपक्षी एकता को इसे सबसे बड़ा झटका माना जा रहा है। बुधवार की शाम अचानक बिहार से नाटकीय घटनाक्रम देखने को मिलने लगा है। दोपहर में आरजेडी की बैठक के बाद लालू और तेजस्वी यादव, दोनों ने ही दावा किया था कि महागठबंधन पर कोई खतरा नहीं है। लालू ने तो यहां तक कहा था कि उनकी नीतीश कुमार से बात होती रहती है और उन्होंने कभी तेजस्वी से इस्तीफा नहीं मांगा है, लेकिन कुछ ही घंटे में तस्वीर बदल गई। आरजेडी की बैठक खत्म होने के बाद शाम करीब पांच बजे जेडीयू की बैठक शुरू हुई। बैठक खत्म होते ही नीतीश कुमार ने राज्यपाल से मिलने का मन बना लिया। सूत्रों के मुताबिक विधायक दल की बैठक में नीतीश कुमार ने यह साफ कर दिया था कि कड़े फैसले लेने का वक्त आ गया है।
साभार : नवभारत टाइम्स

LEAVE A REPLY