‘‘ धीणें री बातां ’’ कार्यक्रम का 3 नवम्बर 2016 को शाम 5:30 बजे आकाशवाणी बीकानेर से प्रसारित होने वाला ये दौ सो(200) वां एपिसोड है । संख्या के साथ अनुभव मिला तो ज्ञानी , विशेषज्ञों का सानिघ्य मिला ।
आकाशवाणी के अधिकारियों का विश्वास मिला विशेषकर मिलिन्द जी अमित सिंह श्रवण कुमार जी का।
साथ मिला श्रीमती प्रभा थानवी जैसी कम्पीयर का जिनके कारण हम हर एपिसोड को कुछ खास अंदाज में प्रस्तुत करने का प्रयास किया।

promotion-banner-medai-03
आभार राजुवास के उन समस्त विशेषज्ञों का जिनके कारण प्रोग्राम को रूचिकर और ज्ञानवर्धक बनाने में सफल रहें ।
आभार माननीय कुलपति प्रो.(डाॅ.)कर्नल ए.के. गहलोत एवं प्रो. राजेश कुमार धूडिया साहब का,
आपके सहयोग से पशुपालकों तक ज्ञानवर्धक जानकारी पहुंचानें में हम सफल रहें ।
सबसे बड़ा आभार हमारे उन श्रोताओं का जिनके हजारों पत्र और पत्र से मिले सुझावों के कारण हम इस कार्यक्रम को हमेशा और बेहत्तर बनाने का प्रयास करते रहे और करते रहेगें , बस आप इसी तरह ये कार्यक्रम सुनते रहिये और हम तक अपनी प्रतिक्रिया भेजते रहे।
आभार उन सभी का भी जिनका सहयोग हमें प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष मिला और भविष्य में भी आशा है कि आप को प्यार और आर्शीवाद यूं ही मिलता रहेगा।
जन जन की वाणी आकाशवाणी

7 COMMENTS

LEAVE A REPLY

*

code