बीकानेर (हैलो बीकानेर न्यूज़)। अन्तरराष्ट्रीय ऊंट उत्सव के दूसरे दिन की शुरूआत हुई हैरिटेज वॉक से हुई जो कि रामपुरिया हवेलियों से जब मोहता चौक पहुंची वहां वॉक में शामिल देशी व विदेशी शैलानियों ने बीकानेर गोल्डन आर्ट से बनी नक्काशी व मनोवत के कार्य की बारीकियां देख कर अपने कैमरों में कैद कर विदेशों में ले जाने की उत्सुकता दिखाई। बीकानेर के नायाब कृतियों को भव्य शुभारम्भ सुबह हेरिटेज वॉक से हुआ।

बीकानेर के युवा चित्रकार राम कुमार भादाणी द्वारा किये गये नक्काशी के कार्य को जीवन्त रखने और इसे बढ़ावा देने के लिए अग्रणीय है यह उद्बोधन थे ऊर्जा कार्मिक मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला के वहीं मौजूद बीकानेर के जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा जो लोग रहते है खामोष अक्सर जमाने में उनके हुनर बोलते है। बाजारवाद में के समय मंे ये कला अपनी जमीनी संस्कृति के प्रति नया विष्वास पैदा करती है। वहीं बीकानेर के अन्तरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त मिनियचर आर्टिस्ट महावीर स्वामी ने खुबसूरत नक्काशी का कार्य नगर की खास पहचान है। कई ऐतिहासिक हिन्दू-जैन मन्दिरों में राम भादाणी के द्वारा की गई नक्काषी देखने को मिल सकती है। नक्काशी के बारीकी को देखने के लिए देषी व विदेषी शैलानियों का हुजूम रहता है।

बीकानेर : नायाब आतिशबाजी के साथ 26 वां ऊंट उत्सव संपन्न, देखे झलकियां 

भादाणी ने बताया कि प्रदर्षनी में 27 आइटम नक्काषी के कार्य को प्रदर्षित किया गये जिसमें – फोटो फ्रेम, बाजोट, मांचा, गदा, मोगरी, देवी-देवता, झुला, सिंगासन, हार-कंगन मुख्य बिन्दु रहे। आमजन तक इस कला को पहुंचाना ही इस कलाकार का मुख्य उद्देष्य है।