हैलो बीकानेर। बीकानेर माहेश्वरी समाज के युवा व्यापारी राजेश डागा हत्याकांड के 2 मुलजिम पुलिस के हत्थे चढ गये है। गजनेर SHO अमरसिंह ने यह जानकारी देते हुए बताया कि हत्याकांड में मुख्य अभियुक्त जोगेन्द्र सिंह उर्फ पप्पू सरदार और उसके छोटे भाई राजेन्द्र सिंह रायसिख को रविवार की रात उनकी ढाणी में दबिश देकर गिरफ्तार कर लिया गया है,जिन्होने अपना अपराध कबूल कर दिया है।
दोनो मुलजिमों को न्यायालय में पेश कर तीन दिन के रिमांड पर लिया गया है। SHO अमरसिंह ने बताया कि इस हत्याकांड में नामजद शेष मुलजिमों की सरगर्मी से तलाश जारी है। जानकारी में रहे कि मुंबई प्रवासी हाल नयाशहर थाना क्षेत्र के डागा चौक निवासी राजेश डागा पुत्र रामकुमार डागा (48) ने गजनेर इलाके में अपनी कंपनी का सोलर पार्क लगाया हुआ है। गुरूवार की रात वो अपने तीन दोस्तों के साथ कार में गजनेर से बीकानेर आ रहा था, कोडमदेसर फांटे पर कोटड़ा की ढाणी निवासी पप्पूसिंह, राजेन्द्र, महेन्द्र बाइक लिए खड़े थे। उन्होंने कार को रुकवा लिया और राजेश डागा समेत चारों जनों को बंधक बनाकर ढाणी ले गए, जहां पप्पूसिंह उसके भाई राजेन्द्रसिंह, महेन्द्र सिंह वगैरहा से उनके साथ मारपीट की,बताया जाता है कि मारपीट के दौरान राजेश डागा अचेत होकर गिर पड़ा जिसे बेहोशी की हालत में पीबीएम अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने इस वारदात को लेकर मृतक राजेश डागा के भाई अभिषेक डागा की रिपोर्ट पर हत्या का केस दर्ज किया था।