हैलो बीकानेर/ सादुलपुर(मदन मोहन आचार्य)। राजगढ़ थाने के वृत निरीक्षक विष्णुदत्त विश्नोई ने कहा है कि हमारा प्रयास अपराधिक तत्वों में भय पैदा करना है, ना कि आम जनता मैं किसी प्रकार का भय फैलाना है। शहर के प्रबुद्ध नागरिक अफवाहों से सावधान रहे lथानाधिकारी ने उक्त बात रविवार दोपहर को व्यापारियों के प्रतिनिधिमंडल के समक्ष कही व्यापारीगण नंदकिशोर मित्तल, सज्जन कुमार कंदोई, ओमप्रकाश बैरासरिया, रमेश भरतिया, सन्तकुमार सरावगी आदि उनसे मिलने गए थे।

व्यापारियों ने राजगढ़ पुलिस द्वारा शहर में कानून व्यवस्था व ट्रैफिक व्यवस्था के लिए उठाए गए कदमों की सराहना की। साथ ही उन्होंने देर रात तक बजने वाले डीजे पर सख्ताई से रोक लगाने की मांग भी की।
व्यापारियों ने बताया कि विवाह के दौरान सावर्जनिक भवनों में रात को 2-2 बजे तक डीजे बजते रहते हैं। इसी प्रकार विवाह शादी के दौरान बिंदोरी या ढुकाव में भी आधी रात के बाद डीजे बजते हैं। जिससे ना सिर्फ ध्वनि प्रदूषण बढ़ता है बल्कि सुप्रीम कोर्ट के आदेशों की भी अवहेलना होती है।


थानाधिकारी ने इस बारे में प्रभावी कार्यवाही करने की बात कही। इसी दौरान यह बात भी उठी कि कुछ लोग यह कह रहे हैं कि पुलिस कस्बे में दहशत का वातावरण बना रही है ?
इस पर बिश्नोई ने कहा कि मैंने राजगढ़ क्षेत्र की कानून व्यवस्था को एक चुनौती के रूप में स्वीकार की है। यहां की जो बिगड़ी व्यवस्थाएं हैं, उन्हें सुधारने का प्रयास यथासंभव प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए मैं स्वयं दिन में एकाधिक बार बाजार ही नहीं अन्य स्थानों का भी दौरा करता हूं।
ऑटो रिक्शा किराया तय नहीं होने का मामला भी जब सामने आया, तो आज ही ऑटो रिक्शा चालकों की मीटिंग ली है। उन्हें निर्देश दिया है कि वह अपने कागजात पूरे कर ले तथा 1 अक्टूबर से प्रत्येक टेंपो चालक अपने टेम्पो नंबर पुलिस थाना में दर्ज करवा कर सीरियल नंबर ले ले। वह सीरियल नंबर मोटे अक्षरों में ऑटो रिक्शा पर लिखवाए, ताकि किसी प्रकार की बात होने पर इस सीरियल नंबर से ऑटो रिक्शा की पहचान की जा सके।उन्होंने यह भी कहा कि जल्दी ही परिवहन विभाग के अधिकारी को बुलाकर किराया दर सूची तय करवा दी जाएगी।


थानाधिकारी विष्णुदत्त विश्नोई ने कहा कि किसी भी शांतिप्रिय नागरिक को परेशान अथवा चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। किसी भी व्यक्ति को कोई परेशानी हो तो वह बेहिचक मुझसे मिल सकता है अथवा फोन पर अपनी बात बता सकते हैं। इस दौरान किशनपुरा गांव की संजू उर्फ नारायणी बेवा सुरेश चौधरी ने भी थाना अधिकारी से मिलकर अपनी समस्या बताएं अपनी माता के साथ आई इस विधवा महिला ने सबके सामने कहा कि मैं सीआई साहब का नाम और चर्चा सुनकर न्याय पाने के लिए आई हूं इस महिला को ससुराल वाले परेशान करते हैं इस पर थानाधिकारी ने अधीनस्थ अधिकारियों को तत्काल कार्यवाही करने का निर्देश दियाl