हैलो बीकानेर। बीकानेर से पूनरासर हनुमान जी की पैदल यात्रा आज भी रवाना होगी। कल भारी मात्रा में पूनरासर भक्त पैदल रवाना हुवे थे। पूनरासर हनुमान जी का मेला 07 सितम्बर को भरा जायेगा। बीकानेर से पैदल रवाना होने वालों कुछ भक्तों से हैलो बीकानेर ने बात कि तो उन्होंने कहा पूनरासर के लिए पैदल यात्रा बीकानेर से नौरंगदेसर तक पक्की सड़क की जाती है उसके बाद नौरंगदेसर से लगभग सभी पैदल यात्री कच्चे मार्ग की तरफ घूम जाते है।

हैलो बीकानेर ने जब पैदल यात्रियों से पूछा की इस यात्रा में सबसे ज्यादा कौनसी परेशानी का सामना करना पड़ता है तो पैदल यात्रियों ने बताया बीकानेर से जब पैदल यात्री रवाना होते है तो रास्ते में पैदल चलने में सबसे बड़ी परेशानी वाहनों से होती है। जब पैदल यात्री पैदल चल रहे होते है तो दुपहिया वाहनों की लाइट उनकी आंखों पर इतनी तेजी से आती रहती है जिससे निचे सड़क दिखाई ही नहीं देती जिससे पैदल चलने में काफी परेशानी होती है। पिछले कुछ सालों से मोटरसाइकिल व निजी वाहनोंं की संख्या इस मेले इतनी बढ़ गई है कि पैदल चलना बड़ा मुश्किल हो रहा है। मोटरसाइकिल सवार बड़ी तेज गती से मोटरसाइकिल चलाते है।

पिछले कुछ सालों से इनकी संख्या इतनी हो गई है कि पैदल यात्रा तो प्रभावित हो ही रही है सेवा करने लोगों को भी परेशानी हो रही है। इस रास्तें मे पैदल यात्रियों की सेवा करने वाले लोगों ने हैलो बीकानेर को बताया कि पैदल यात्रियों के विश्राम करने लिए जो स्थान रखा जाता है वहां पर इतनी भीड़ हो रही है कि पता ही नहीं चलता कि कौन पैदल यात्री है और कौन मोटरसाइकिल सवार, इसके अलावा सेवा करने के लिए जो खाध्य सामग्री लेकर जाते है उसमें हर बार बढ़ोतरी की जा रही है लेकिन फिर भी खाध्य सामग्री को लेकर पैदल यात्रियों की शिकायत रहती है।

निवेदन : निजी वाहनों वालों से निवेद है कि वो गाड़ी धीरे चलाए व पैदन यात्रियों का विशेष ध्यान रखें। धन्यवाद।