हैलो बीकानेर। बीकानेर के प्रसिद्ध,प्राचीन और ऐतिहासिक श्री नागणेची जी माता के मंदिर में अश्विन मास के 21 नवम्बर से प्रारंभ होने वाले नवरात्रो से पूर्व पिछले 10-15 दिनों से रंग-रोगन,साफ-सफाई और सजावटों एवं डेकोरेशन का काम जोरो-शोरो से चल रहा हैं। जो लगभग पूरा हो गया है। आज साफ जल से पूरे मंदिर परिसर जिसमे निज मंदिर प्रांगण,गुम्बज,चामुण्डा माता का मंदिर,एवं शिव मंदिर प्रांगण की साफ-सफाई की गई । जिसमे जुगल तंवर,पुनीत शुक्ला,जेपी,रिपुदमन,सतीश,दिनेश जोशी,कालीचरण,अभिषेक,बालमुकुंद,सचिन,आदि युवा जागरूक माता के भक्तों का विशेष सहयोग रहा।मंदिर के मुख्य पुजारी श्री राजेश सेवग के अनुसार नवरात्रो का मेला पुरे नो दिनों तक चलेगा जिसमे मंदिर प्रातः भोर में 5.15 से पर खुलेगा।जिसमे  रात्रि 1145 तक माता के भक्तों का ताँता लगा रहता हैं। इस दौरान माता का नव रुपी विशेष श्रृंगार अलग-अलग दिनों के अनुसार देखने को मिलेगा। इस मंदिर के प्रति स्थानीय दर्शनार्थियों के साथ-साथ देश के अन्य राज्यो एवं जिलो से भी आने वाले माता के भक्तों की विशेष आस्था रहती हैं। कई जातरू आस्था-विश्वास और श्रध्दा से लंबी दूरी तय करके पैदल चलकर माता में दर्शन के लिए आते हैं। मंदिर में इस बार कैनवास से बनाई आकृतियां,फूलो एवं पक्षियो आदि की बनावट देखने लायक होगी।

11 COMMENTS

LEAVE A REPLY

*

code