बीकानेर । मंगलवार एम. एम. ग्राउण्उ मे चल रहे सात दिवसीय द्रोणाचार्य निःशुल्क तीरंदाजी शिविर में मंगलवार को योगाभ्यास करवाया गया। मुख्य प्रशिक्षक गणेश लाल व्यास ने बताया की आगामी 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जायेगा जिससे पूर्व सभी खिलाड़ीयों को योगाभ्यास करवाया गया। योग शिक्षक लोकेश व्यास ने तीरंदाजी के खिलाड़ीयों के मैदान मे मौजूद सभी वर्ग के लोगो को योग के लिए प्रेरित कर, योगाभ्यास के लिए बुलाया।
योग विशेषज्ञ डाॅ. अमित पुरोहित ने बताया की योग शारिरिक एवं मानसिक तनाव दुर करने के बहुत उपयोगी है पुरोहित ने दिए अपने सम्बोधन में कहा की प्रत्येक खिलाड़ी अगर नित्य रूप से योग करे तो वह सामान्य के ज्यादा खुद को सक्रिय खिलाड़ी के रूप में देखेंगे। सचिव राहुल व्यास ने कहा की योग आवश्यक रूप से एक आध्यात्मिक अनुशासन है यह स्वस्थ जीवन क लिए एक कला एवं विज्ञान है, योग हमे व्यक्तिगत चेतना से सार्वभौमिक चेतना के साथ मिलन करने के लिए अग्रसर करता है एवं योग अशांत मन को शांत एवं स्थिर करने की पद्धति है दैनिक जीवन ने हमे इसे अपनाना चाहिए।
वहीं दुसरी ओर पवन व्यास ने खिलाड़ीयों का राजस्थानी साफे पहनाएं एवं राजस्थान के परम्परा एवं रहन-सहन मे साफे का महत्व बताया जिससे युवाआंे के साथ इस बार युवतियों मे भी साफो का लेकर उत्साह बना रहा। संस्था के भुवनेश्वर औझा ने बताया की बुधवार को योग के लिए जागरूक करने के लिए ‘रन फाॅर योगा‘ के नाम से मेराथन दौड़ निकाली जायेगी जो प्रातः 06ः30 बजे एम. एम. ग्राउण्ड से रवाना होगी। शिविर मे योग विशेषज्ञ डाॅ. अमित पुरोहित एवं योग शिक्षक लोकेश व्यास ने सुर्य-नमस्कार, वृक्षासन, ताड़ासन, त्रिकोणासन, कंद्रासन, शंशाकासन, नोकासन, हाॅस्यासन, कपालभाति, अनुलोम-विलोम, भ्रामरी आदि योग प्रोटोकाॅल का अभ्यास करवाया।