Websity

बीकानेर hellobikaner.com मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आह्वान पर राज्य की उच्च शिक्षा से जुड़े विभिन्न शिक्षक, पेंशनर्स एवं कर्मचारी संगठनों द्वारा उच्च शिक्षा मंत्री भँवर सिंह भाटी को वैश्विक महामारी की इस घड़ी में हर प्रकार से सहयोग का आश्वासन दिया गया।

वैश्विक महामारी को देखते हुए राज्य के समस्त सरकारी विश्वविद्यालयों एवं कॉलेजेज के शैक्षणिक और अशैक्षणिक स्टाफ द्वारा मुख्यमंत्री सहायता कोष- ब्व्टप्क्-19 राहत कोष में एक दिन का वेतन कुल राशि लगभग 4.15 करोड़ जमा करवाने की सहमति प्रदान की गई । यह एक सराहनीय प्रयास है।

इस कोष में राज्य के समस्त गवर्नमेंट कॉलेजेज के स्टाफ द्वारा 2.60 करोड़ रुपये, राजस्थान विश्वविद्यालय, जयपुर द्वारा 30.00 लाख रुपये, राजस्थान विश्वविद्यालय पेंशनर्स द्वारा 5.00 लाख रुपये, जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय, जोधपुर द्वारा 12.00 लाख रुपये, महर्षि दयानंद सरस्वती विश्वविद्यालय, अजमेर द्वारा 8.50 लाख रुपये, मोहनलाल सुखाड़िया विश्वविद्यालय, उदयपुर द्वारा 7.00 लाख रुपये, महाराजा गंगासिंह विश्वविद्यालय, बीकानेर द्वारा 2.33 लाख रुपये, कोटा विश्वविद्यालय, कोटा द्वारा 2.83 लाख रुपए, वर्धमान महावीर खुला विश्वविद्यालय, कोटा द्वारा  6.50 लाख रुपये, राज्य के सभी कृषि विश्वविद्यालयों द्वारा 60.00 लाख रुपए तथा राजस्थान यूनिवर्सिटी ऑफ वेटेरिनरी एंड एनिमल साइंसेज, बीकानेर द्वारा 15.00 लाख रुपए दिए जाने सहमति दी गई।

साथ ही सभी संगठनों ने विश्वास दिलाया कि वे कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा राज्य सरकार द्वारा समय- समय पर जारी एडवाइजरी को समाज के हर तबके तक मोबाइल व इंटरनेट के जरिए पहुंचाने में हर सम्भव प्रयास करेंगे।

उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने  राज्य की उच्च शिक्षा से जुड़े इन सभी संगठनों को धन्यवाद ज्ञापित किया गया तथा भविष्य में भी इसी प्रकार सहयोग के लिए तैयार रहने का आह्वान किया।