पाटा पर गुजरी है पीढियां वो है मेरा शहर : रंगा

हैलो बीकानेर, बीकानेर। रमक झमक संस्था द्वारा शनिवार को  पाटा सस्कृति के लेखक डॉ राजेन्द्र जोशी व मुम्बई में पहचान में लगे रंगकर्मी नवल किशोर व्यास का अभिनन्दन वरिष्ठ नाटकार व साहित्यकार  लक्ष्मीनारायण रंगा, राजस्थानी साहित्यकार गौरीशंकर प्रजापत,सूचना एवं जनसम्पर्क के पूर्व निदेशक दिनेश सक्सेना, पण्डित शिवशंकर ओझा,पूर्व पार्षद दुर्गादास छंगाणी,रमक झमक के अध्यक्ष प्रहलाद ओझा ‘भैरु’, शिवदत्त ओझा,शिव महाराज व विकास किराडू आदि ने अभिनन्दन पत्र,ओपरना, श्री फल,पुस्तक व गीतों की सीडी भेंट कर सम्मानित किया। आभार अविनाश आचार्य आभार ने प्रकट किया ।
रमक झमक के इस कार्यक्रम में वरिष्ठ नाटककार लक्ष्मीनारायण रंगा ने कहा की पाटा पर गुजरी है पीढियां वो है शहर मेरा । उन्होंने कहा कि कला व सस्कृति के लिये डॉ जोशी व श्री व्यास से इस शहर को बड़ी उम्मीदें है । रमक झमक शहर परकोटे की परम्परा व सस्कृति के लिये  कार्य कर रही है और ऐसी प्रतिभाओं का सम्मान करने से युवाओं का अपनी सस्कृति के लिये और अधिक रुझान बढ़ेगा । रँगा ने कहा नवल को कहा कि मुंबई स्थापित होने के बाद प्रतिभाशाली अन्य युवाओ को आगे लेकर जाए ,मुंबई में अभिताभ के साथ काम करने पर बधाई व शुभकामना दी ।
गौरीशंकर प्रजापत ने कहा कि हमारी सस्कृति हमारी धरोहर है ,इसे संजोए रखने के लिये रमक झमक के नियमित प्रयास उल्लेखनीय है । दिनेश सक्सेना ने कहा कि ने कहा कि बीकानेर शहर एक सास्कृतिक नगर है । रंगकर्मी नवल व्यास व लेखक डॉ जोशी ने कहा कि हमारा सम्मान वास्तव में हमारी अधिक मेहनत व जिम्मेदारियों का अहसास कराता रहेगा ।  रंगकर्मी नवल व्यास ने आने वाली हिंदी फिल्म आई एम पिंगला में भी एक महत्वपूर्ण रोल निभाया है।

अधिक जानकारी के लिए हमारा फेसबुक पेज लाइक करे Click here for Our Facebook Page
हमे न्यूज़ भेजे Email Id : hellobikanermedia@gmail.com

LEAVE A REPLY