श्रीगंगानगर (हैलो बीकानेर न्यूज़)। अनूपगढ़ विधानसभा की पूर्व विधायक शिमला बावरी के भाई व निजी पीए भंवरजीत बावरी की संदिग्ध मौत के मामले में जहरीला इंजेक्शन लगाने की बात सामने आई है। पुलिस ने मामला दर्ज करके जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार भंवरजीत बावरी की दो दिन पूर्व एक एसटीआर के निजदीक लेघा पेट्रोल पम्प के निकट कार में संदिग्ध मौत हो गई थी। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया है। अब भंवरजीत के पिता जगदीश पुत्र रामलाल बावरी निवासी 12 केएनडी ने मर्ग दर्ज करवाते हुए पुलिस को बताया कि उसके पुत्र की मौत जहरीला इंजेक्शन लगने से हुई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।