हैलो बीकानेर,(अविनाश आचार्य),सादुलपुर। चूरू जिले के धार्मिक स्थल सालासर में लॉयन्स क्लब रतनगढ़ ऑरियन एवं गुरूधाम सालासर के संयुक्त तत्वाधान में स्व.पण्डित डेडराज दामोदर प्रसाद पुजारी की स्मृति में डॉ.नरोत्तम ज्योती पुजारी के सहयोग से सालासर बालाजी मंदिर के सामने जाजोदिया धर्मशाला में विशाल स्वैच्छिक रक्तदान शिविर आयोजित किया गया जिसमें महिलाओं सहित पुरूषो ने 86 यूनिट रक्तदान किया। इस मौके डॉ.नरोत्तम पुजारी ने कहा कि रक्तदान जीवन दान है हमारे द्वारा किया गया रक्तदान कई जिंदगियों को बचाता है। इस बात का अहसास हमें तब होता है जब हमारा कोई अपना खून के लिए जिंदगी और मौत के बीच जूझता है। उस वक्त हम नींद से जागते हैं और उसे बचाने के लिए खून के इंतजाम की जद्दोजहद करते हैं। उन्होने कहा कि हम इस अनमोल जीवन के बदले में भगवान को कुछ नहीं दे सकते हैं लेकिन हम रक्त दान के माध्यम से दूसरों की मदद करके भगवान को धन्यवाद दे सकते हैं। कार्यक्रम संयोजक कमल अग्रवाल ने हैलो बीकानेर डॉट कॉम को बताया कि रक्तदान शिविर में सादुलपुर सोशियल हेल्प सोसायटी की महिला सरिता तोला, ज्योति सरावगी, गौरी देवी लुहारीवाला, सुमन आचार्य, श्यामा शर्मा, गणेश दाहिमा, दलीप वाल्मिकी, करणी कांत आचार्य, बजरंग आचार्य, अविनाश के.आचार्य के अलावा रतनगढ़ से भी डेढ दर्जन महिला पुरूष शामिल हुए। प्रात: 9 बजे से दोपहर 2 बजे तक आयोजित रक्तदान शिविर के पश्चात जस्टिस फॉर छाबड़ा संगठन की राष्ट्रीय अध्यक्ष पूनम छाबड़ा के मुख्य आतिथ्य में एक अनूठा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया जिसमे देश प्रदेश से आये 200 राष्ट्र स्तरीय रक्तदाता और रक्तदान प्रेरको का गुरूधाम सालासर की अध्यक्षा ज्योती पुजारी तथा मंचस्थ अतिथियों द्वारा शॉल, श्रीफल व प्रतीक चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। आपको बता दे कि रक्तदान शिविर के दौरान सादुलपुर के युवा सामाजिक कार्यकत्र्ता एवं नि:स्वार्थ भाव से गायों की सेवा करने वाले गौ भक्त दलीप वाल्मिकी का भी सम्मान किया गया। शिविर में जीवन ज्योती रक्तदाता समूह के कार्यकत्र्ताओं ने सराहनीय सहयोग कर महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। संचालन शिक्षक राकेश गहलोत ने किया।

3 COMMENTS

  1. I just want to tell you that I am new to weblog and seriously liked your page. Most likely I’m want to bookmark your website . You certainly come with excellent articles and reviews. Thanks a bunch for sharing your web-site.

LEAVE A REPLY

*

code