बीकानेर hellobikaner.com कोरोना वायरस संक्रमण को बीकानेर में प्रवेश करने व फैलने से रोकने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग हाई अलर्ट मोड पर है। साथ ही संबंधित विभागों व स्टेकहोल्डर्स को भी अलर्ट किया जा रहा है। इसी क्रम में रविवार को स्वास्थ्य भवन में होटल व्यवसायियों, उद्योग संघ व पर्यटन से जुड़े लोगों के साथ बैठक आयोजित की गई।

सीएमएचओ डॉ बी एल मीणा ने कोरोना वायरस संक्रमण के लक्षण बताते हुए स्पष्ट किया कि कोई पर्यटक अथवा यात्री चीन से आया है अथवा नहीं, उसमें खांसी, जुखाम, गले में खराश जैसे लक्षण होने पर तुरंत चिकित्सा विभाग को सूचित किया जाए ताकि उसकी भली भांति जांच की जा सके। क्योंकि हो सकता है कोई यात्री चीन के वुहान प्रांत से ना आया हो किंतु किसी यात्री किसी संक्रमित चीनी यात्री के संपर्क में रहा हो। विदेशों से आने वाले प्रत्येक यात्री की सूचना उसी दिन सीएमएचओ कंट्रोल रूम को दी जानी है।

धर्मनगरी बीकानेर में अयुत चंडी महायज्ञ की पूर्णाहुति, हजारों लोगों ने किए दर्शन, देखें वीडियो

 

इस संबंध में एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन , बस स्टैंड जैसे समस्त ट्रांजिट प्वाइंट के अलावा ट्रैवल एजेंसीयों को भी अलर्ट रहना होगा। उन्होंने होटल रेस्टोरेंट में परोसे जाने वाले खाद्य को अच्छे से पकाने तथा एफ एस एस ए आई के नॉर्म अनुसार पूर्ण स्वच्छता बरतने के निर्देश दिए। कार्यकारी डिप्टी सीएमएचओ डॉ अनिल वर्मा ने बताया की ऐसे प्रत्येक लक्षण वाले यात्री को आइसोलेट किया जाना व पूर्ण एहतियात बरतना आवश्यक है।

उन्होंने हाथ मिलाने, गले लगने जैसे शिष्टाचारों को फिलहाल स्थगित रखने तथा व्यक्तिगत स्वच्छता को सर्वोपरि रखने की हिदायत दी। एपिडेमियोलॉजिस्ट नीलम प्रताप सिंह द्वारा पीपीटी प्रेजेंटेशन के माध्यम से कोरोना वायरस के परिचय, संक्रमण के लक्षण, बचाव, उपचार व प्रोटोकॉल अनुसार की जाने वाली कार्यवाहीयों की जानकारी दी गई। आर सी एच ओ डॉ रमेश गुप्ता ने बताया कि अगर समस्त स्टेकहोल्डर्स स्वास्थ्य विभाग की समन्वय में कार्य करेंगे तो कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के बीकानेर पहुंचने के बावजूद इसके फैलाव की गुंजाइश नहीं रहेगी।

उन्होंने जानकारी दी कि कोरोना वायरस संक्रमण की जांच अब एस एम एस अस्पताल में भी शुरू हो गई है अतः रिजल्ट भी जल्दी मिलेंगे। बैठक में स्वास्थ्य विभाग के डाटा मैनेजर महेंद्र कुमार, दिनेश श्रीमाली, मनोज आचार्य सहित प्रतिष्ठित होटल व्यवसायी, जिला उद्योग संघ के प्रतिनिधि व पर्यटन से जुड़े व्यवसायी मौजूद रहे।