Websity

एक फरवरी 2020 से 2.3.7 वर्जन वाले एंड्रॉयड फोन पर WhatsApp काम नहीं करेगा। इसके अलावा आईओएस 8 और इसके नीचे के फोन पर भी WhatsApp नहीं चलेगा। बता दें कि एक जनवरी से विंडोज फोन पर भी WhatsApp सपोर्ट बंद हो चुका है। एंड्रॉयड जिंजरब्रेड वाले फोन में भी व्हाट्सएप काम नहीं करेगा। वहीं विंडोज के लूमिया फोन्स में भी WhatsApp बंद हो गया है। माइक्रोसॉफ्ट स्टोर से भी व्हाट्सएप को हटा दिया गया है।

ऑफिशियल ब्लॉग में WhatsApp पहले ही इस बात की पुष्टि कर चुका है कि 1 फरवरी से पुराने वर्जन वाले एंड्रॉयड और आईओएस में WhatsApp का सपोर्ट बंद कर दिया जाएगा। इससे पहले सिंबियन फोन्स में भी WhatsApp बंद हो चुका है। ऐसा नहीं है कि केवल WhatsApp ने ही इन डिवाइसेस से सपोर्ट खत्म किया है।

राजस्‍थान पुलिस में पदोन्‍नत हुए 60 अधिकारी, देखें सूची…

कई अन्य सर्विस भी इन फोन्स पर बंद हो चुकी हैं. गूगल ने 2017 में जिंजरबोर्ड पर सपोर्ट खत्म कर दिया था. वहीं एप्पल ने भी आईफोन 4 से 2015 में सपोर्ट बंद कर दिया था। इसका मतलब ये भी है कि इन फोन को हैक करना काफी आसान है. पिछले कुछ वक्त में WhatsApp को लेकर कई तरह की चर्चाएं सामने आई हैं और ऐसे में इसका अपडेट वर्जन चलाना ही यूजर्स के लिए अधिक सेफ होगा।

WhatsApp दुनिया का सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग एप है और भारत में भी करोड़ों लोग इस एप को यूज करते हैं। इसमें टेक्स्ट मैसेज के अलावा वॉयस कॉल और वीडियो कॉल की भी सुविधा मिलती है। इसकी लोकप्रियता का कारण इसका काफी सिंपल और यूजर फ्रेंडली होना बताया जाता है। बताया जा रहा है कि पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम पर नए फीचर्स सपोर्ट नहीं करते हैं। WhatsApp जितने नए फीचर उतार रहा है और लगभग रोजाना नए अपडेट जारी कर रहा है ऐसे में पुराने ऑपरेटिंग सिस्टम उन्हें सपोर्ट नहीं कर पा रहे हैं।

बीकानेर : डॉ मेघना द्वारा संपादित युग युगीन नारी का हुआ लोकार्पण

ऐसे करें ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट-

एंड्रॉयड यूजर्स फोन की सेटिंग्स में जाकर अबाउट फोन से अपने फोन के ऑपरेटिंग सिस्टम के वर्जन को जान सकते हैं।साथ ही सॉफ्टवेयर अपडेट पर क्लिक करके अपने स्मार्टफोन को अपडेट कर सकते हैं। इसके अलावा आईफोन के यूजर्स सेटिंग्स में जाकर जनरल ऑप्शन को चुनकर सॉफ्टवेयर अपडेट को चुन कर अपने ऑपरेटिंग सिस्टम की जानकारी ले सकते हैं और वहां से सॉफ्टवेयर अपडेट कर सकते हैं।