मुकाम मेले से संबंधित सभी तैयारियां कर ली जाएं-जिला कलक्टर

0



बीकानेर,। जिला कलक्टर वेदप्रकाश ने कहा कि 23 फरवरी से तक मुकाम में आयोजित होने वाले मेले से संबंधित सभी तैयारियां कर ली जाएं। मजिस्ट्रेट नियुक्त करने के साथ ही मेले से संबंधित समस्त व्यवस्थाओं का मौका मुआयने के लिए अधिकारियों को अधिकृत किया जाए।
जिला कलक्टर सोमवार को पेंडिंग पीयूसी (पैपर अंडर कंसीड्रेशन) की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुकाम मेले में देश के विभिन्न क्षेत्रों से बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हों तथा सभी व्यवस्थाएं सुचारू रहें, इसके लिए आवश्यक तैयारियां कर ली जाएं। मजिस्ट्रेट द्वारा पुलिस, बिजली, पानी एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के साथ मौका मुआयना कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि 14वीं विधानसभा का 8वां सत्रा 23 फरवरी से प्रारम्भ होने जा रहा है। इस दौरान प्राप्त होने वाले प्रत्येक प्रश्न का समयबद्ध जवाब दिया जाए। कोई भी प्रश्न लंबित नहीं रहे, इसका विशेष ध्यान रखा जाए।
जिला कलक्टर ने ‘युवा पंजीकरण महोत्सव’ की प्रगति जानी और कहा कि कलक्ट्रेट की विभिन्न शाखाओं से संबंधित पत्रावलियांे का समयबद्ध निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। राज्य सरकार द्वारा गत तीन वर्षों की उपलब्धियों से संबंधित सूचना अतिशीघ्र भिजवाने के निर्देश दिए। बैठक में अतिरिक्त कलक्टर (प्रशासन) यशवंत भाकर, कोषाधिकारी योगिता गोयल, उपखण्ड अधिकारी नानूराम सैनी, कलक्ट्रेट के कार्यालय अधीक्षक गंगाराम सहित विभिन्न शाखाओं के प्रतिनिधि मौजूद थे।
—–
पेयजल भंडारण, वितरण सहित समूची जानकारी उपलब्ध करवाई जाए-जिला कलक्टर
बीकानेर,। जिला कलक्टर वेदप्रकाश ने कहा कि जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग द्वारा जिले में पेयजल भंडारण एवं वितरण की स्थिति, प्रगतिरत एवं पूर्ण योजनाओं सहित कंटीजेंसी प्लान की जानकारी उपलब्ध करवाई जाए। जिला कलक्टर सोमवार को कलक्ट्रेट सभागार में साप्ताहिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि गर्मियों से पूर्व कंटीजेंसी प्लान तैयार किया जाए तथा इसकी सूचना उपलब्ध करवाई जाए। प्रगतिरत योजनाओं के पूर्ण होने की संभावित तिथि की जानकारी भी दी जाए। उन्होंने कहा कि विद्युत और जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग में सामजंस्य की कमी नहीं रहे, इसका विशेष ध्यान रखा जाए। उन्होंने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना एवं मुख्यमंत्राी राजश्री योजना की प्रगति जानकारी और इनका अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए। उन्होंने बताया कि वर्तमान में 80.05 प्रतिशत राशन सामग्री का वितरण पोस मशीनों से किया जाने लगा है। अब भी ऐसे क्षेत्रों को चिन्हित किया जाए, जहां औसत से कम ट्रांजेक्शन है। इसमें गति लाने के लिए कार्ययोजना बनाई जाए।
देनी होगी साप्ताहिक सूचना
जिला कलक्टर ने कहा कि सार्वजनिक निर्माण विभाग द्वारा गौरव पथ निर्माण की प्रगति, कन्या जन्म पर पौधारोपण के कन्य उप वन अभियान और मुख्यमंत्राी विद्युत सुधार अभियान के तहत उपखण्ड अधिकारियों द्वारा गोद लिए गांवों में विद्युत सुधार प्रगति की साप्ताहिक सूचना संबंधित विभागों द्वारा उपलब्ध करवाई जाए। साप्ताहिक बैठक में इसकी समीक्षा की जाएगी। उन्होंने कहा कि हाइवे पर ढाबों एवं अन्य दुकानदारों द्वारा यदि अवैध विद्युत कनेक्शन किया पाया जाता है, तो उनके खिलाफ भी अभियान चलाकर कार्रवाई की जाए। उन्होंने संपर्क पोर्टल के प्रकरणों की समीक्षा भी की।
बैठक में अतिरिक्त कलक्टर (नगर) शैलेन्द्र देवड़ा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. देवेन्द्र चौधरी, एसीपी सत्येन्द्र सिंह राठौड़, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधीक्षण अभियंता दीपक बंसल, सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता बसंत आचार्य, विद्युत निगम के अधीक्षण अभियंता एम. आर. चौधरी सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।