सहायक अभियंता एवं दलाल हुआ ट्रैप, कार की तलाशी में 5 लाख से अधिक रुपये की संदिग्ध राशि बरामद

0




आवास एवं अन्य ठिकानों पर तलाशी जारी

जयपुर helobikaner.com राजस्थान में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो लगातार घूसखोर पर कार्यवाही कर रही है। ए.सी.बी. मुख्यालय के निर्देश पर दौसा इकाई द्वारा आज कार्यवाही करते हुये रामनिवास मीना सहायक अभियंता जे.वी.वी.एन.एल. बसवा, जिला दौसा को उसके दलाल देवीसिंह मीना ( प्राईवेट व्यक्ति) के माध्यम से परिवादी से 2 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

 

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक भगवान लाल सोनी ने बताया कि ए.सी.बी. की दौसा इकाई को परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि उसके पिताजी के नाम से आवेदित कृषि कनेक्शन जारी करने एवं सामान इश्यू करने की एवज में रामनिवास मीना सहायक अभियंता जे.वी.वी.एन.एल. बसवा, जिला दौसा द्वारा 5 हजार रूपये रिश्वत राशि मांग कर परेशान किया जा रहा है।

 

जिस पर एसीबी जयपुर के उपमहानिरीक्षक पुलिस कालूराम रावत के निर्देशन में एसीबी दौसा इकाई के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेन्द्र कुमार शर्मा के नेतृत्व में शिकायत का सत्यापन किया जाकर आज पुलिस निरीक्षक नवल किशोर एवं उनकी टीम द्वारा ट्रेप कार्यवाही करते हुए रामनिवास मीना पुत्र रामकुमार मीना निवासी दूध की डेयरी, करौली रोड़, सालौदा ग्रामीण महु खुर्द रूरल, महूकलां जिला सवाईमाधोपुर हाल सहायक अभियंता जे.वी.वी.एन.एल. बसवा, जिला दौसा को उसके दलाल देवीसिंह मीना पुत्र अमरसिंह मीना निवासी बड़ा थोक, बामनवास पट्टीकलां जिला सवाईमाधोपुर ( प्राईवेट व्यक्ति) के माध्यम से परिवादी से 2 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। उल्लेखनीय है कि ट्रेप कार्यवाही के दौरान आरोपी सहायक अभियंता की प्राईवेट कार की तलाशी में 5 लाख 50 हजार रुपये की संदिग्ध नकद राशि भी बरामद हुई है जिसके संबंध में एसीबी टीम द्वारा पूछताछ की जा रही है।

 

एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस दिनेश एम. एन. के निर्देशन में आरोपी के निवास एवं अन्य ठिकानों की तलाशी जारी है। एसीबी द्वारा मामले में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गत प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा ।