– ‘कथारंग’ व ‘हुनर और हौसले की कहानियां’ का लोकार्पण
– कविता कोश व गद्यकोश के संस्थापक ललित कुमार आएंगे
– समापन सत्र में शामिल होंगे राजेंद्र राठौड़ व रामेश्वर डूडी

हैलो बीकानेर। बीकानेर साहित्य महोत्सव का आयोजन शनिवार 25 फरवरी को स्थानीय धरणीधर रंगमंच पर होगा। इस अवसर पर बीकानेर के 150 रचनाकारों की कहानियों के संकलन ‘कथारंग’ तथा मेहनत व संघर्ष से अपना मकाम बनाने वाले सफल उद्यमियों पर आधारित ‘हुनर और हौसले की कहानियों’ का लोकार्पण भी होगा। यह एक दिवसीय कार्यक्रम दो सत्रों में होगा।
कार्यक्रम के संयोजक हरीश बी.शर्मा ने बताया कि यह कार्यक्रम ‘जन तक सृजन’ अभियान की अगली कड़ी है जिसमें दोनों कृतियों का अनावरण भी आम जन करेंगे। उपस्थित लोक के प्रतिनिधियों के माध्यम से होने वाला किताबों का यह अनावरण समारोह अपने आप में अलग होगा। इसके लिए आम जन की भागीदारी के लिए संपर्क भी किया जा रहा है।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में कविताकोश व गद्यकोश के संस्थापक संयोजक ललित कुमार बीकानेर आ रहे हैं। विशिष्ट अतिथि कविता कोश व गद्य कोश की सह-संयोजक श्रीमती शारदा सुमन और व्यवसायी कन्हैयालाल बोथरा होंगे। अध्यक्षता समाजसेवी रामकिसन आचार्य करेंगे।
लोकार्पण समारोह के पश्चात दूसरे सत्र का आयोजन ‘काव्य-धारा’ से शुरू होगा। लाडनूं के कवि-शायर राजेश विद्रोही व बीकानेर के आनंद वि. आचार्य की कविताओं से प्रारंभ होने वाले इस कार्यक्रम में कथारंग के कहानीकारों को सम्मानित किया जाएगा।
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री राजेंद्र राठौड़ तथा राजस्थान विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी होंगे। अध्यक्षता बीकानेर विधायक (पश्चिम) डॉ.गोपाल जोशी करेंगे। दोनों ही कार्यक्रमों के स्वागताध्यक्ष वरिष्ठ रंगकर्मी, पत्रकार व साहित्यकार मधु आचार्य ‘आशावादी’ रहेंगे।
संयोजक हरीश बी.शर्मा ने बताया कि ‘कथारंग’ में कुल 150 कहानीकार हैं, इनमें से 56 महिलाएं हैं। सभी कहानियों पर बीकानेर के छह विद्वानों ने टिप्पणी की है।

Comments are closed.