बीकानेर : झुग्गी झोंपड़ियां बना रहने वाले 105 परिवारों का हुआ पुनर्वास, 20 करोड़ रुपए मूल्य की भूमि मुक्त

0
hellobikaner.com



बीकानेर hellobikaner.com करणी नगर में वर्षों से झुग्गी-झोपड़ियां बनाकर रहने वाले 105 परिवारों का चकगर्बी में सुरक्षित पुनर्वास होने लगा है। इन झुग्गी झोपड़ियों के हटने के बाद लगभग 20 करोड़ रुपए बाजार मूल्य की भूमि मुक्त हो जाएगी।

 

जिला कलेक्टर तथा नगर विकास न्यास अध्यक्ष भगवती प्रसाद कलाल ने बताया कि श्रीगंगानगर रोड पर लगभग 3 दशकों से झुग्गी झोपड़ी बनाकर रहने वाले परिवारों के सफल पुनर्वास के बाद अब चरणबद्ध रूप से ऐसे परिवारों का पुनर्वास किया जा रहा है।

 

 

इसका उद्देश्य है कि ऐसे सभी परिवार भी सम्मानजनक तरीके से अपना जीवन यापन कर सकें। उन्होंने बताया कि इसके मद्देनजर करणी नगर क्षेत्र में रहने वाले इन 105 परिवारों को भी चकगर्बी में 15 गुणा 15 फुट के भूखंडों में शिफ्ट किया जा रहा है।

 

आधारभूत सुविधाओं के अभाव में रह रहे इन परिवारों की सुनियोजित बसावट के लिए चकगर्बी में प्लॉट्स का चिन्हीकरण, मार्किंग तथा इन परिवारों को यह प्लॉट देने की प्रक्रिया पूर्ववत की गई है। उन्होंने बताया कि अब तक लगभग 80 परिवार यहां शिफ्ट भी हो चुके हैं तथा शेष परिवार भी यहां जल्दी ही आ जाएंगे।

 

उल्लेखनीय है कि जिला कलक्टर की पहल की बदौलत श्रीगंगानगर रोड पर रहने वाले शत प्रतिशत परिवार चकगर्बी में शिफ्ट हो चुके हैं। प्रशासन द्वारा इनके लिए पेयजल, विद्युत, सड़क और शौचालय जैसी आधारभूत सुविधाएं की हैं। इन परिवारों के लिए विद्युत का स्थाई कनेक्शन दिए जाने की कार्यवाही की जा रही है।

 

 

वहीं इनको भूखंड का मालिकाना हक देने के बाद प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत इन्हें पक्की छत दिलाने की कार्यवाही की जाएगी। जिला कलेक्टर ने बताया कि इसी तर्ज पर करणी नगर से पुनर्वासित किए गए इन परिवारों को भी सभी सुविधाएं मुहैया करवाई जाएगी।