बीकानेर hellobikaner.com उप मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी इंद्रा प्रभाकर ने मंगलवार को मुरलीधर व्यास कॉलोनी के विभिन्न सेक्टरों में होम क्वॉरेंटाइन में रह रहे लोगों से उनके घर जाकर बातचीत की और समझाईश करते हुए कहा कि एडवाइजरी की पालना करना परिवार, मौहल्ले और शहर सबके हित में हैं। अगर एडवाइजरी की पालना नहीं की तो संबंधित के विरुद्ध सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी तथा होम क्वाॅरेन्टाईन से स्टेट क्वाॅरेन्टाईन में शिफ्ट किया जाएगा।

उन्होंने होम क्वॉरेंटाइन में रह रहे लोगों से कहा कि अगर कोई व्यक्ति आपसे मिलने आता है तो उन्हें सविनय निवेदन करें कि 14 दिन बाद स्वास्थ्य परीक्षण करवाएंगे और रिपोर्ट नेगेटिव होने पर आप सबके साथ ही मिलना बैठना होगा। अभी दूरी बनाए रखें। इस दौरान उनके साथ पैरा-मेडिकल स्टाफ की टीम ने होम क्वॉरेंटाइन में रह रहे लोगों के घरों के बाहर नोटिस चिपकाया, जिसमें कोराना-19, होम क्वाॅरेन्टाईन संबंधी विवरण लिखा हुआ था।

बीकानेर : आज अभी तक 62 पॉजिटिव, 705 की रिपोर्ट आई नेगेटिव

प्रभाकर ने मुरलीधर व्यास कॉलोनी के ऐसे मकान, जिनमें होम क्वॉरेंटाइन लोग रह रहे थे, उनके आसपास रहने वाले पड़ोसियों को भी इस दौरान बुलाया और कहा कि यहां जो लोग होम क्वाॅरेंटाइन में रह रहे हैं, वे बाहर नहीं निकलें और एडवाइजरी की पूर्ण पालना करें, इसका आप लोग भी ध्यान रखें। अगर ऐसे लोग बाहर निकलते हैं तो कंट्रोल रूम पर फोन कर इसकी इत्तला करें। ये आप सभी के लिए हितकर होगा। पड़ोसियों ने उनको ऐसा करने के लिए आश्वस्त किया। इस दौरान उन्होंने सभी निवासियों से सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने, हाथ बार-बार धोने और मास्क लगाने की अपील की।