केन्द्रीय वित्त एवं कंपनी मामलात राज्यमंत्री ने एनएलसी द्वारा नवनिर्मित सड़क का लोकार्पण किया

0



बीकानेर,। केन्द्रीय वित्त एवं कंपनी मामलात राज्यमंत्राी श्री अर्जुनराम मेघवाल ने गुरूवार को बरसिंहसर से स्वरूपदेसर तक नवनिर्मित सड़क का लोकार्पण किया। यह सड़क एनएलसी इंडिया लिमिटेड द्वारा कॉरपोरेट सोशियल रिसपोंसबिलिटी (सीएसआर) के तहत बनाई गई है। एनएलसी के सीएमडी डॉ. शरत कुमार आचार्या ने बताया कि सड़क की लम्बाई 5 किलोमीटर है व इसकी लागत 90 लाख रूपये आई है। इस अवसर पर केन्द्रीय वित्त एवं कंपनी मामलात राज्यमंत्राी श्री मेघवाल, कोलायत विधायक श्री भंवरसिंह भाटी, सीएमडी डॉ. आचार्या, डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य सहित ग्रामीणों ने बड़ी संख्या में यहां पौधे लगाए।
img-20161103-wa0184

img-20161103-wa0185

promotion-banner-medai-03
केन्द्रीय मंत्राी ने सुनी जनसमसस्याएं
इस अवसर पर श्री मेघवाल ने एनएलसी इंडिया लिमिटेड परिसर सभागार में ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। उन्होंने कहा कि बरसिंहसर व आसपास के क्षेत्रों के सर्वांगीण विकास के लिए हरसंभव प्रयास किए जाएंगे। इस दौरान बरसिंहसर व आसपास के गांवों की मेधावी बच्चियों के लिए एनएलसी द्वारा छात्रावृति दी जाने की मांग की गई। इस पर सीएमडी ने बताया कि बताया कि बरसिंहसर, स्वरूपदेसर, लालमदेसर, भोलासर और पलाना आदि गांवों की प्रथम श्रेणी व अधिक नंबर लाने वाली मेघावी छात्राओं को छात्रावृति दी जाएगी। उन्होंने इन बच्चियों की सूची प्लांट के अधिकारियों को उपलब्ध करवाने की बात कही। ग्रामीणों ने यहां केन्द्रीय विद्यालय खुलवाने की मांग की, इस संबंध में केन्द्रीय मंत्राी ने प्रस्ताव तैयार कर भिजवाने के निर्देश दिए। एनएलसी के सीएमडी ने कहा कि इसके लिए भवन तथा अन्य संसाधन एनएलसी द्वारा उपलब्ध करवाए जाने के प्रस्ताव तैयार किए जाएंगे।
बरसिंहसर में इनडोर स्टेडियम बनाने की मांग रखते हुए ग्रामीणों ने कहा कि इन गांवों में अनेक प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं। स्टेडियम बनने से इन प्रतिभाओं को पर्याप्त अवसर मिल सकेंगे। सीएमडी ने इस सम्बन्ध में आवश्यक कार्यवाही करने तथा वर्तमान स्टेडियम को विकसित करने की बात कही। ग्रामीणों ने गांव में स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने की मांग रखी। केन्द्रीय मंत्राी ने इसके लिए प्रस्ताव बनाकर भिजवाने के निर्देश दिए। ग्रामीणों की नजदीकी गांवों को पक्की सड़कों से जोड़ने की मांग पर केन्द्रीय मंत्राी ने आवश्यकता के अनुरूप सर्वे करवाते हुए एनएलसी द्वारा सड़के बनवाए जाने तथा इनके रखरखाव के लिए पीडब्ल्यूडी से एमओयू करने की बात कही।
जनसुनवाई के दौरान ग्रामीणों ने गांव में स्वास्थ्य केन्द्र खुलवाने की मांग की, जिससे आस-पास के गांवों के ग्रामीणों को लाभ मिल सके। इस संबंध में केन्द्रीय मंत्राी ने पीपीपी मोड पर अस्पताल खुलवाने की बात कही तथा कहा कि इसके लिए संसाधन एनएलसी द्वारा उपलब्ध करवाए जाएं। बीठनोक के ग्रामीणों ने भी सुविधाएं उपलब्ध करवाने की मांग की। ग्रामीणों ने घरों में बिजली आपूर्ति की मांग की, इस संबंध में बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रा के घरों में स्वतंत्रा रूप से सोलर पैनल संयंत्रा लगाकर बिजली आपूर्ति की कार्ययोजना बनाई जाएगी। ग्रामीणों ने गांव में डेªनेज सिस्टम विकसित करने की मांग रखी, इस पर केन्द्रीय मंत्राी ने कहा कि इसके लिए ग्रामीणों द्वारा एनएलसी को स्थान उपलब्ध करवाया जाए। कार्मिकों की वेतन विसंगति की समस्या के संबंध में सीएमडी ने इस संबंध में परीक्षण करवाने की बात कही।
केन्द्रीय मंत्राी का किया भव्य स्वागत
इससे पहले केन्द्रीय राज्य मंत्राी को एनएलसी परिसर में सीआईएसएफ ने गार्ड ऑफ ऑनर दिया तथा उनका भव्य स्वागत किया गया। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्राी श्री मेघवाल, कोलायत विधायक भंवर सिंह भाटी, डॉ. सत्यप्रकाश आचार्य, पूर्व प्रधान भोमराज आर्य तथा एनएलसी के सीएमडी, कम्पनी के निदेशकगण सहित जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों और ग्रामीणों ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत एनएलसी परिसर में साफ-सफाई की। इस दौरान केन्द्रीय राज्य मंत्राी ने उपस्थित लोगों को स्वच्छता की शपथ दिलाई। समन्वयक का कार्य अशोक खांडल ने किया। श्री मेघवाल ने एनएलसी परिसर में आयोजित सांस्कृतिक संध्या में भी शिरकत की।