चंडीगढ़ विश्वविद्यालय 24 सितंबर तक बंद, MMS कांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, ये वीडियो हो रहा वायरल

0
hellobikaner.com



हैलो बीकानेर न्यूज़ hellobikaner.com चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के एमएमएस वीडियो लीक मामले की निष्पक्ष एवं पारदर्शी जांच के लिए जिला एवं पुलिस प्रशासन के आश्वासन के बाद चंडीगढ़ विश्वविद्यालय के छात्रों ने सोमवार तड़के अपना विरोध प्रदर्शन समाप्त कर दिया।

 

 

कुछ छात्र अपने घरों के लिए निकलते दिखाई दिए। विश्वविद्यालय के कथित वीडियो लीक विवाद को लेकर कल परिसर में छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया था। मामले में 2 आरोपी को गिरफ्तार किया गया और एक को हिरासत में लिया गया है।

 


गर्ल्स हॉस्टल से आपत्तिजनक वीडियो के कथित लीक पर कार्रवाई की मांग को लेकर छात्रों के भारी विरोध के बाद चंडीगढ़ विश्वविद्यालय 24 सितंबर तक बंद रहेगा। घटना के बाद कुछ छात्रों को अपने घरों के लिए निकलते देखा गया। चंडीगढ़ विश्वविद्यालय प्रशासन ने छात्राओं के साथ दुर्व्यवहार के आरोप में गर्ल्स हॉस्टल वार्डन राजविंदर कौर को निलंबित भी कर दिया है।

 


पंजाब पुलिस ने सोमवार को विश्वविद्यालय की छात्राओं के आपत्तिजनक वीडियो रिकॉर्ड करने के आरोपों की जांच के लिए तीन सदस्यीय विशेष जांच दल का गठन किया था। पुलिस ने बताया कि वरिष्ठ भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी गुरप्रीत कौर देव की देखरेख में विशेष जांच दल (एसआईटी) का गठन किया गया है। पंजाब पुलिस महानिदेशक गौरव यादव ने कहा कि इसमें शामिल किसी भी व्यक्ति को बख्शा नहीं जाएगा।

 

गर्ल्स हॉस्टल में आरोपी लड़की का ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 


विश्वविद्यालय के कथित ‘लीक आपत्तिजनक वीडियो’ विवाद को लेकर परिसर में छात्रों का विरोध शनिवार और रविवार को होता रहा। छात्रों के भारी विरोध के बाद पुलिस ने आरोपी लड़की और उसके दो प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है।


इससे पहले रविवार को, हिमाचल प्रदेश पुलिस ने कहा कि उन्होंने चंडीगढ़ विश्वविद्यालय वीडियो लीक विवाद में एक दूसरे आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। शिमला जिला पुलिस ने आरोपी छात्रा के प्रेमी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोप है कि उन्होंने यूनिवर्सिटी की कई लड़कियों के ”आपत्तिजनक वीडियो” शेयर किए हैं। पुलिस ने इन आरोपों को खारिज कर दिया कि छात्रा ने कई वीडियो साझा किए लेकिन यह जरूर कहा कि उसने केवल अपना वीडियो अपने प्रेमी सनी मेहता को साझा किया।

 


पुलिस महानिदेशक संजय कुंडू ने ट्विटर पर कहा, “ हिमाचल प्रदेश पुलिस ने संवेदनशीलता और पेशेवराना तरीके से पंजाब पुलिस के अनुरोध पर प्रतिक्रिया व्यक्त की है। हमने आरोपी को पकड़ लिया। डॉ मोनिका, पुलिस अधीक्षक शिमला और उनकी टीम को शानदार पेशेवर दायित्व के लिए बधाई। ”