पेपर लीक पर बोले मुख्यमंत्री गहलोत, कहा – सरकार किसी भी युवा के साथ अन्याय नहीं होने देगी, देखें वीडियो

0
hellobikaner.in




हैलो बीकानेर न्यूज़ नेटवर्क, जयपुर, hellobikaner.com राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने द्वितीय श्रेणी शिक्षक भर्ती पेपर लीक मामले में कहा है कि राज्य सरकार किसी भी युवा के साथ अन्याय नहीं होने देगी एवं दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी।

गहलोत ने कहा कि आज नौ से ग्यारह बजे की शिक्षक भर्ती की सामान्य ज्ञान की परीक्षा को ऐतिहातन निरस्त किया गया है जिससे किसी भी मेहनतकश युवा के साथ अन्याय ना हो। बाकी परीक्षाएं यथावत जारी रहेंगी। उन्होंने कहा कि सरकार किसी भी युवा के साथ अन्याय नहीं होने देगी एवं दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जाएगी।

उन्होंने कहा “मैं परीक्षार्थियों को होने वाली परेशानी महसूस कर सकता हूं परन्तु अनुचित तरीके से परीक्षा पास करने के मंसूबे पाल कर आए लोगों का चयन नहीं होने दिया जाएगा। राजस्थान में सिर्फ मेहनती युवाओं को ही उनका हक मिलेगा। मेरी अपील है कि किसी के बहकावे में आने की बजाय आप अपनी तैयारी करें।”

उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से देशभर में पेपर लीक करने वाले गैंग पनप गए हैं जिससे कई राज्यों में यहां तक कि ज्यूडिशियरी एवं मिलिट्री तक में पेपर लीक जैसी घटनाएं होती हैं पर राजस्थान में सख्त कार्रवाई कर बेईमानों को जेल में बंद किया गया है। उन्होंने कहा कि भर्ती परीक्षाओं में पार्दर्शिता के लिए हमारी सरकार ने सख्त कानून बनाया है।

उधर पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने कहा कि नकल गिरोह के विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि भर्ती परीक्षाओं को स्वच्छ एवं निष्पक्ष ढंग से कराने के लिए राजस्थान पुलिस तत्पर है एवं इसी का प्रतिफल है कि निरंतर ऐसे नकल गिरोहों को पकड़ा जा रहा है।

मिश्रा ने बताया कि रीट की भांति ही इस बार भी नकल गिरोह को शिकंजे में लेकर सख्त कानूनी कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि नकल करने का प्रयास करने वाले अभ्यर्थियों को डिबार करने के लिए राजस्थान लोक सेवा आयोग को लिखा जा रहा है।