राजे मैडम के आगमन से पहले कर्मचारियों की हुंकार

0



फोटो :- राजेश छंगाणी
बीकानेर । संकल्प पत्र (घोषणा पत्र) के क्रियान्वयन के सम्बन्ध में अखिल राजस्थान राज्य कर्मचारी संयुक्त महासंघ एकीकृत के बैनर तले मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे के आगमन से एक दिन पहले सोमवार को यहां एक दिवसीय धरना दिया जाएगा। इस धरने के माध्यम से कर्मचारियों की राज्य सरकार से घोषणा पत्र लागू करने की अपील की जाएगी। रविवार को बुलाए गए पत्रकारों को जानकारी देते हुए एकीकृत महासंघ के प्रदेश उपाध्यक्ष व जिलाध्यक्ष भंवर पुरोहित ने बताया कि राजे सरकार द्वारा तीन वर्ष पूर्ण करने पर बीकानेर में जश्न मनाया जा रहा है और इस जश्न में शरीक होने के लिए मैडम राजे आ रही है इससे पहलीे सुराज यात्रा के दौरान अपने घोषणा पत्र के कर्मचारी के पृष्ठ नं. 37 पर बिन्दू संख्या 5 के अंतर्गत एनआरएचएम कार्मिक, प्रदेश के विभिन्न योजनाओं में लगे हुए कम्प्यूटर ऑपरेटर, वंचित नर्सेजकर्मी, जनता जल योजनाकर्मी, पे्ररक, विद्यार्थी मित्र, वन मित्र, कृषि मित्र, पैराटीचर, मदरसा पैराटीचर्स, शिक्षाकर्मी लोक जुम्बिशकर्मी, नरेगाकर्मी, चिकित्साकर्मी, शिक्षक एवं सीसीडीयू आदि संविदा पर कार्यरत कर्मचारियों को स्थायी/नियमित करने हेतू नीति बनाने की घोषणा की गई थी, लेकिन सरकार द्वारा इनके हितार्थ अभी तक कोई कार्य योजना प्रारम्भ नहीं की गई है, जबकि राजस्थान का सम्पूर्ण कर्मचारी जगत चाहे वह संविदा का हो या नियमित का वर्तमान सरकार के गठन में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। पुरोहित ने यह भी बताया कि एकीकृत महासंघ से जुड़े कर्मचारियों से अपील की गई है कि ज्यादा से ज्यादा तादाद में सोमवार को संभाग मुख्यालय के कलैक्ट्रेट परिसर में धरनास्थल पर पहुंचकर अपना योगदान देवें।