रचनात्मक गतिविधियों में सहभागिता से बच्चों की सृजनात्मकता का होता है विकास : तंवर

0
hellobikaner.com




बीकानेर hellobikaner.com 14 से 20 नवम्बर तक आयोजित किए जा बाल अधिकारिता सप्ताह के अंतर्गत बीकानेर महिला उत्थान एवं जागृति समिति द्वारा संचालित गोराधाय ग्रुप फोस्टर केयर सेन्टर द्वारा रचनात्मक एवं सांस्कृतिक आयामों का आयोजन किया गया।

 

 

सेन्टर में आवासित बच्चों द्वारा रंगकर्मी रामसहाय हर्ष द्वारा लिखित एवं निकिता हर्ष द्वारा निर्देशित नाटक ‘‘हम सब एक है’’ ‘‘मुझे भी ले चलो’’ के साथ खेल-खेल में शिक्षा साथ एवं देश भक्ति एवं संदेशात्मक गीतों का प्रदर्शन भी किया गया। विष्णु कुमार, विशाल, सरस और मोदी का अभिनय बहुत सराहनीय रहा।

 

 

इस अवसर पर बाल कल्याण समिति की अध्यक्ष डॉ. किरण तंवर ने अपने संक्षिप्त संबोधन में कहा कि बच्चों द्वारा रचनात्क गतिविधयों में शामिल होने से बच्चों का सर्वांगीण विकास तो होता ही उनका  आत्मविश्वास भी बढ़ता है और सृजन क्षमता भी विकसित होती है। महिला एवं बाल अधिकारिता विभाग के अरूण सिंह शेखावत ने कहा कि बच्चों द्वारा इस तरह की प्रतिभागिता से ही प्रतिभाएं निकल कर सामने आती हैं,रंगकर्मी मंजू राकांवत ने बच्चों के अभिनय को सराहा ।

 

लघु नाटकों एवं गीत के साथ खेल-खेल में शिक्षा कार्यक्रम में आवासित बच्चें विष्णु कुमार, विशाल कंडारा, सरस और मोदी  के साथ विधि हर्ष ने भी भाग लिया। कार्यक्रम में बाल कल्याण समिति केे सदस्य हर्षवर्धन सिंह, जुगल किशोर व्यास एवं सरोज जैन, बाल अधिकारिता विभाग से सुमन नेहरा एवं, नर्बदा हर्ष, रंगकर्मी सुश्री मंजू रांकावत  क्रिएटिव फोटोग्राफर अनिल कुमार बोहरा  भी उपस्थित थे।

 

कार्यक्रम का संचालन निकिता हर्ष ने किया। समाजसेविका आरती आचार्य ने आभार संबोधन के दौरान कहा कि कहा कि समिति हमेशा जनहित से जुड़े कार्यों में बढ़चढ़ कर भाग लेती रही है और भविष्य में समिति जनसेवा और बच्चों के उत्थान के लिए सक्रिय रहेगी।