करंट अफेयर्स सीरिज-27 : संकलन-हरि शंकर आचार्य

0


दिनांकः 6 फरवरी 2017
संदर्भ- 5 फरवरी 2017
संकलन-हरि शंकर आचार्य
मोबाइल-9460779970/9549752372
1- तमिलनाडू की दिवंगत मुख्यमंत्री जयललिता की सबसे नजदीकी मित्र तथा अनाद्रमुक महासचिव शशिकला तमिलनाडू की नई मुख्यमंत्री होंगी। उन्हें विधायक दल का नेता चुना गया। मुख्यमंत्री ओ. पनीरसेल्वन ने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। यह तीसरी बार है जब पनीरसेल्वन को इस्तीफा देना पड़ा। वहीं मई 2016 में सत्ता में आने के बाद शशिकला तमिलनाडू की तीसरी मुख्यमंत्री बनेंगी। 1972 में एमजीआर ने द्रमुक से अलग होकर नई पार्टी अनाद्रमुक बनाई थी। 45 साल के पार्टी के इतिहास में शशिकला तीसरी बड़ी नेता होंगी। जयललिता का निधन 5 दिसम्बर 2016 को हुआ था।
2- स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने देश में मीजल्स रूबेल (एमआर) टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया। इन दो बीमारियों के खिलाफ अभियान पांच राज्यों, संघशासित प्रदेशों (कर्नाटक, तमिलनाडू, पुदुच्चेरी, गोवा और लक्षद्वीप) से शुरू किया जायेगा, जिसके अंतर्गत करीब 3.6 करोड़ बच्चों को टीके लगाए जाएंगे। इस अभियान के बाद मीजल्स रूबेल (एमआर) टीका नियमित रोग-प्रतिरक्षण कार्यक्रम में शामिल किया जायेगा, जो वर्तमान में दी जा रही मीजल्स की खुराक का स्थान लेगा। वर्तमान में यह खुराक दो बार यानी 9-12 महीने और 16-24 महीने की आयु के बच्चों को दी जाती है। एमआर अभियान का लक्ष्य देशभर में करीब 41 करोड़ बच्चों को लाभ पहुंचाना है। इन सभी की आयु 9 महीने से 15 वर्ष के बीच है।
3- पाकिस्तान की प्रसिद्ध उर्दू उपन्यासकार एवं पटकथा लेखिका बानो कुदसिया का 88 वर्ष की आयु में निधन हो गया। उनका जन्म नवंबर 1928 में भारत के फिरोजपुर में हुआ था। उन्होंने राजा गिद्ध उपन्यास सहित आधी बात, आतिश-ए-जर-पा, इक दिन, अमर बेल जैसी पुस्तकें लिखीं। पाकिस्तान सरकार की ओर से उन्हें 2003 में सितारा-ए-इम्तियाज और 2010 मंे हिलाल-ए-इम्तियाज सम्मान से नवाजा गया।
4- न्यूजीलैण्ड ने अपने देश में हुई तीन एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला में आस्ट्रेलिया को 2-0 से हराकर चैपल-हैडली सीरिज पर कब्जा जमाया। न्यूजीलैण्ड ने लगातार आठवीं घरेलू सीरिज जीती। घर में सर्वाधिक श्रृंख्लाएं जीतने का रिकाॅर्ड दक्षिण अफ्रीका के नाम है। इस टीम ने लगातार घरेलू श्रृंख्लाएं जीतीं। वहीं आस्ट्रेलिया को घर से बाहर लगातार सातवीं श्रृंख्ला में हार का सामना करना पड़ा।