प्राइवेट स्कूलों में पढ़ रहे बड़े स्टूडेंट्स से जिला कलेक्टर ने की अपील, पढ़ें पूरी न्यूज़

0
hellobikaner.com




हैलो बीकानेर न्यूज़ नेटवर्क hellobikaner.com हनुमानगढ़ जिला कलेक्टर रुक्मणि रियार ने सोमवार को बिजली, पानी, मौसमी बीमारियों समेत सभी विभागों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में ली। बैठक में जिला कलेक्टर ने विभागों की समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए।

 

महिला एवं बाल विकास की समीक्षा के दौरान जिला कलेक्टर ने जिले की सभी आंगनवाड़ी केंद्रों पर खिलौना बैंक स्थापित करने को लेकर प्राइवेट स्कूल के बड़े हो चुके विद्यार्थियों से अपील करते हुए कहा कि जो बच्चे बड़े हो चुके हैं और घर में अगर खिलौने अच्छी स्थिति में है तो वे जिला मुख्यालय पर जिला परिषद में स्थापित किए गए खिलौना बैंक में इन्हे जमा करवा सकते हैं।

 

 

राजीविका के अंतर्गत स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को लर्निंग एलिमेंट वाले खिलौने बनाने हेतु प्रेरित करने के निर्देश दिए ताकि बच्चे खिलौनों से कुछ सीख सके। इसमें जानवरों से संबंधित खिलौने, कलर से संबंधित, शेप से संबंधित इत्यादि हो सकते हैं। जिला कलेक्टर ने आजीविका की स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा बनाए गए फाइल, फोल्डर इत्यादि से कलेक्ट्रेट स्थित कैंटीन और जिला मुख्यालय स्थित मुख्य डाकघर के सामने राजीविका मार्ट से अधिक से अधिक संख्या में लेने की अपील की।

 

प्राइवेट स्कूलों में पढ़ रहे बड़े स्टूडेंट्स से जिला कलेक्टर ने की अपील, पढ़ें पूरी न्यूज़

 

मुख्यमंत्री युवा संबल योजना की समीक्षा करते हुए कहा कि पढ़े-लिखे युवक-युवती समाज कल्याण के हॉस्टल में 4 घंटे की जगह 2 घंटे ही स्टूडेंट्स को मोटिवेट करें ताकि स्टूडेंट्स को फायदा मिले। गर्ल्स हॉस्टल में महिला और बॉयज हॉस्टल में पुरुष आशार्थी ही पढ़ाने हेतु जाएं। इसकी प्रोग्रेस अच्छी नहीं होने पर जिला कलेक्टर ने आवश्यक कार्रवाई के निर्देश दिए।बैठक में जिला कलेक्टर ने आबकारी विभाग की समीक्षा करते हुए जिला आबकारी अधिकारी को शराब की रात 8 बजे बाद अवैध बिक्री की आए दिन शिकायत मिलने के चलते आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

 

वन विभाग की समीक्षा के दौरान जिला कलेक्टर ने घर-घर औषधि योजना के अंतर्गत इस योजना का फॉरमैट चेंज करते हुए बड़े पौधे लगाने की वन विभाग की योजना के अंतर्गत सभी विभागों के अध्यक्षों को निर्देशित किया कि अगर ग्रामीण क्षेत्र में और शहरी क्षेत्र में कहीं भी किसी कार्यालय में जगह हो तो वे अधिकाधिक पौधारोपण करने का प्लान वन विभाग को सौंप सकते हैं ताकि बड़ी संख्या में पौधारोपण किया जा सके।

 

बैठक में जिला कलेक्टर रूकमणि रियार के अलावा सीईओ जिला परिषद प्रतिभा देवठिया समेत लगभग सभी जिला स्तरीय अधिकारीगण उपस्थित थे।