बीकानेर hellobikaner.com उदयरामसर के चार युवाओं ने अपना बचपन एक साथ गुजारा। साथ खेल-कूदे और पढ़ाई की। संयोग ऐसा कि जुलाई के पहले सप्ताह में चारों ही कोरोना पाॅजिटिव पाए गए, लेकिन इससे घबराए नहीं और जंग जीतकर स्वस्थ हुए।

अब चारों युवाओं ने सोमवार को एक साथ प्लाज्मा डोनेट किया, जिससे कि कोरोना के गंभीर रोगियों की जान बचाई जा सके। खुद जिला कलक्टर नमित मेहता ने युवाओं की इस पहल को सराहा तथा इन्हें प्रेरित करने वाली सेवर्स स्क्वाॅयर संस्था की सराहना की। जिला कलक्टर ने कहा कि संकट के इस दौर में ऐसी संस्थाओं और युवाओं की पहल कोरोना के खिलाफ जंग जीतने में सहायक सिद्ध होगी।

दरअसल, उदयरामसर निवासी राहुल शर्मा, विष्णु शर्मा, दिनेश शर्मा और राजा शर्मा मित्र हैं। किसी कोरोना संक्रमित के संपर्क में आने के बाद एक-एक कर चारों ही पाॅजिटिव पाए गए। जब चारों युवा ठीक हुए तो बीकानेर में प्लाज्मा थैरेपी से इलाज प्रारम्भ हो गया। इस दौरान सेवर्स स्क्वाॅयर संस्था ने प्लाज्मा डोनेशन जागरुकता अभियान चलाया, जिससे प्रेरित होकर चारों युवा सोमवार केा पीबीएम अस्पताल पहुंचे और आवश्यक मेडिकल जांच के बाद प्लाज्मा डोनेट करने के लिए फिट पाए गए।

प्लाज्मा डोनेट करने के बाद चारों युवाओं ने सेवर्स स्क्वाॅयर संस्था के अध्यक्ष विजय प्रकाश बाफना के नेतृत्व में जिला कलक्टर नमित मेहता से मुलाकात की, जहां संस्था द्वारा चारों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। इस दौरान जिला कलक्टर ने कोरोना के गंभीर रोगियों की जीवन रक्षा के लिए प्लाज्मा की उपयोगिता के बारे में बताया तथा कहा कि संस्था अधिक से अधिक लोगों को प्रेरित करे। उन्होंने चारों युवाओं की पहल को सराहा तथा उनका आह्वान किया कि आमजन को कोरोना से बचाव के लिए जागरुक करें।

सेवर्स स्क्वाॅयर अध्यक्ष बाफना ने बताया कि जिला कलक्टर की प्रेरणा से संस्था द्वारा 21 अगस्त को प्लाज्मा डोनेशन जागरुकता अभियान प्रारम्भ किया गया। इस दौरान पंद्रह हजार बल्क मैसेज तथा ई-पत्र भिजवाए गए हैं। संस्था की प्रेरणा से चार मित्रों के अलावा दयाल सिंह शेखावत ने भी सोमवार को प्लाज्मा डोनेट किया। द्वारा एक दर्जन से अधिक लोगों को प्लाज्मा डोनेशन के लिए तैयार किया गया है। इनके द्वारा नाॅम्र्स के अनुसार प्लाज्मा डोनेट किया जाएगा। इस दौरान भैंरू सिंह और नितेश मारु मौजूद थे।