‘फुलवारी’ प्रोजक्ट का ‘एक्शन प्लान’ बनाया जाए- जिला कलक्टर

0


बीकानेर, 31 जनवरी। जिला कलक्टर वेदप्रकाश ने बीकानेर संभाग मुख्यालय पर पायलट प्रोजेक्ट के रूप में प्रारम्भ होने वाले ‘फुलवारी’ अभियान का एक्शन प्लान बनाने के निर्देश दिए हैं।

जिला कलक्टर ने मंगलवार को कलक्ट्रेट सभागार में बाल संरक्षण इकाई की बैठक की अध्यक्षता करते हुए यह निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बाल संरक्षण आयोग द्वारा कच्ची बस्तियों के बच्चों को मुख्यधारा से जोड़ने के उद्देश्य से महत्त्वाकांक्षी अभियान बीकानेर से प्रारम्भ किया जा रहा है। अभियान के तहत कच्ची बस्तियों में सर्वे करवाया जाएगा तथा यहां रहने वाले बच्चों की संख्या, आयु, शैक्षणिक योग्यता, स्वास्थ्य की स्थिति, आधार एवं भामाशाह नामांकन, पालनहार सहित विभिन्न योजनाओं की पात्रता की जानकारी संकलित की जाएगी। उन्होंने कहा कि इस अभियान की रूपरेखा निर्धारित की जाए तथा सहयोगी विभागों के अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाए।

दो मामलों में पचास हजार की सहायता स्वीकृत

एससीएसटी महिला अत्यचार निवारण समिति की बैठक में दो मामलों में 50 हजार रूपये स्वीकृत किए गए। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के उपनिदेशक एल. डी. पंवार ने बताया कि समिति द्वारा अब तक 41 लाख 50 हजार रूपये की सहायता स्वीकृत की गई है, जिससे 64 महिलाआें को लाभ दिया गया है। इस दौरान ऑटिज्म, सेरेबल पॉल्सी, बहुविकलांगता एवं मानसिक विमंदता बाधित बच्चों को अभिभावकता प्रदान करने संबंधी विचार विमर्श भी हुआ। बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. अमनदीप सिंह कपूर, बाल संरक्षण इकाई अध्यक्ष वाई. के. शर्मा, सदस्य हाजरा बानो, जयश्री पारीक, अरूणा भार्गव, सुमन जैन सहित विभिन्न अधिकारी मौजूद थे।