‘‘श्री रावल कांधल‘‘ के व्यक्तित्व पर विशाल आयोजन

0


चूरू,जितेश सोनी । स्थानीय पेंशनर समाज भवन में श्री बणीर स्मारक समिति एवम राजस्थान पेंशनर समाज शाखा चूरू के तत्वाधान में ‘‘रावल कांधल‘‘ के व्यक्तित्व व कृतित्व पर पत्रवाचन का विशाल आयोजन रखा गया। प्रदेशाध्यक्ष राजपाल सिंह टांई ने अवगत कराया कि समिति द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर्नल भीम सिंह निराधनूं ने की जिसमें विशिष्ठ अतिथि माधव शर्मा व बनवारी जी खामोश व पत्रवाचक माननीय कमल ंिसंह कोठारी , मातुसिंह व अजयसिंह राठौड़ सिकरोड़ी ने रावल कांधल जी के द्वारा किये गये युद्धों और तात्कालिक सामाजिक सन्दर्भों में उनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर प्रकाशडाला। विशिष्ठ अतिथि बनवारी खामोश ने कहा कि इतिहास सिर्फ सामान्य ज्ञान की चीज नहीं है इतिहास के हर शब्द में जीवन भरा है। इस मौके पर बोलते हुये मुख्यअतिथि माधव शर्मा ने कहा कि इतिहास कभी दोहराया नही जा सकता और समाज से जुड़ा रहता है। अंग्रेजों ने हमारे इतिहास में बहुत बदलाव किया और इतिहास में भ्रांतिया आई।उन भ्रांतियों को मिटाते हुये चैहान वंश के गोगाजी राठौर वंश के रावल कांधल जैसे योद्धा ही नही यह देवतुल्य नेतृत्व प्रदान करते हुये सर्व समाज के रक्षक व संरक्षक बने। इसी प्रकार कर्नल भीमंिसह ने कहा किजैसे पूर्व में अपने स्वजनों पुरखों ने सर्वसमाज के लिये कार्य किया है वैसे ही आज भी वैसे ही राजपूत समाज को सर्वसमाज के प्रति आदर भाव रखते हुये आगे बढना है।

सभा में सज्जनंिसह मठोड़ी, सुरेन्द्र सिंह, बिरजू सिंह, लक्ष्मणसिंह, मोहनसिंह, जगमालसिंह, दीपसिंह, कमलसिंह, सुगनसिंह, पदमसिंह, कल्याणसिंह और बहुत से गणमान्य लोग मौजूद रहे। संचालन लिलाधर शर्मा ने किया। पेंशनर समाज के अध्यक्ष मोहन लाल व रामसिंह बीका का विशेष सहयोग रहा।