बीकानेर hellobikaner.com बीकानेर संभाग के सबसे बड़े अस्पताल पीबीएम की अव्यवस्थाओ के संबंध में आज मोहनसिंह वेलफेयर सोसाइटी के शिष्टमंडल के द्वारा पीबीएम अधीक्षक डॉ. मोहम्मद सलीम को ज्ञापन दिया गया।

सोसायटी के अध्यक्ष सोहन सिंह परिहार ने जानकारी देते हुए बताया कि पीबीएम में अगर किसी व्यक्ति की सामान्य मृत्यु होने पर भी परिवार जनों को मृतक की बॉडी 20 से 15 घंटे में दी जाती है जो कि अमानवीय है और दूसरी तरफ अधीक्षक महोदय अखबारों में न्यूज़ में बयान देते हैं कि मृतक की बॉडी 2 से 3 मिनट में दे देते हैं वहीं दूसरी तरफ अस्पताल में आने वाले मरीजों व परिजनों के लिए सेनेटाइजर व स्क्रीनिंग  की कोई व्यवस्था नहीं है जिससे कोरोना फैलने का खतरा बना रहता है।

बीकानेर में आज 24 नहीं 21 केस पॉजिटिव आए सामने आए, इन क्षेत्रों मिले केस

सोसायटी के सचिव वेद व्यास ने बताया कि वहीं दूसरी तरफ आमजन में भय व्याप्त है तो वहीं अस्पताल के बाहर बिस्तरों का गोरखधंधा चल रहा है जिसे महामारी फैलने का खतरा बढ़ रहा है इसे तुरंत रोका जाए अन्यथा महामारी अधिनियम के तहत उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए इसके लिए पीबीएम चौकी में सोसाइटी की तरफ से एप्लीकेशन दी गई है जिससे पुलिस चौकी के कर्मचारियों ने आश्वासन दिया कि जल्द ही इन पर कार्रवाई की जाएगी साथ ही परिसर के चारों तरफ अंधेरा छा चुका है 1 वर्ष पूर्व अस्पताल में लाइटों के लिए सोसाइटी की तरफ से आंदोलन किया गया था और लाइट जल गई थी पर आज पूरी अंधेर नगरी बन चुकी है।

बीकानेर : ऑनलाइन शिक्षा ग्रहण करते वक्त अभिभावक बच्चों के साथ रहें : एडीईओ सुनील बोड़ा

साथ ही सचिव वेद व्यास ने अधीक्षक को चेतावनी दी गई कि अगर 3 दिनों के अंदर इन सभी बिंदुओं पर पूर्णता कार्रवाई नहीं हुई तो एक बड़ा आंदोलन होगा जिसका जिम्मेदार स्वयम अधीक्षक महोदय होंगे शिष्टमंडल में वेदव्यास, बजरंग तंवर, अनिल हर्ष, पार्षद प्रत्याशी हेमंत कछावा, गणेश श्रीमाली, दाऊ लहरी, मोहित सेवक, आदि साथ रहे।