बीकानेर में नववर्ष पर निकलेगी धर्मयात्रा, जूनागढ़ के सामने होगी महाआरती

0


हिन्दूओं को साथ लेकर मनाएंगे महाउत्सव
PC Hindu jagran manch - Copy
हैलो बीकानेर : नववर्ष चैत्र प्रतिपदा के मौके पर हिन्दू जागरण मंच के बैनर तले मंगलवार, 28 मार्च को शहर के अंदरुनी क्षेत्र से एक धर्मयात्रा निकाली जाएगी जो विभिन्न मार्गों से होती हुई जूनागढ़ पहुंचेगी वहां महाआरती का आयोजन होगा। जूनागढ़ पर ही आयोजित सभा, पूजन के दौरान दो तस्वीरें मां और भारत माता का पूजन किया जाएगा। यह जानकारी शनिवार को रेलवे स्टेशन से गंगाशहर मार्ग पर स्थित होटल वृन्दावन रीजेंसी में एक पत्रकार सम्मेलन में हिन्दू जागरण मंच के प्रांत सह-संयोजक जेठानंद व्यास ने पत्रकारों को दी। इस अवसर पर बजरंग तंवर भी मौजूद थे। व्यास ने बताया कि जूनागढ़ पर अखिल भारतीय सह-संयोजक कमलेश सिंह व शहर के धर्मगुरु स्वामी संवित् सोमगिरीजी महाराज का सानिध्य प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि नववर्ष उत्सव बड़े ही उल्लास के रुप में मनाएं इसके लिए शहरभर में अनेक इलाकों में नुक्कड़ सभाएं आयोजित की जा रही है जिसके माध्यम से लोगों से इस धर्मयात्रा में शामिल होने का आह्वान किया जा रहा है। इस धर्मयात्रा में आगे-आगे मोटरसाइकिल पर पीछे जीप, घोड़े, ऊंटों का काफिला और डीजे के साथ भारत माता की झांकी प्रदर्शित होकर धर्मयात्रा जूनागढ़ पहुंचेगी। उन्होंने यह भी बताया कि इस धर्मयात्रा में किसी भी प्रकार का कोई ट्रेफिक जाम नहीं हो इसके लिए प्रशासन को भी सूचित कर दिया गया है।
यह रहेगा रुट
धर्मयात्रा एम.एम.ग्राऊण्ड से रवाना होकर पुष्करणा स्टेडियम, गोकुल सर्किल, नत्थूसर गेट, बारहगुवाड़, सदाफते, रत्ताणी व्यासों का चौक, हर्षों का चौक, मोहता चौक, तेलीवाड़ा, दाऊजी रोड़, जोशीवाड़ा, शहर के हृदय स्थल कोटगेट, एम.जी.रोड़, शार्दूलसिंह सर्किल होते हुए जूनागढ़ पहुंचेगी और वहां भव्य महाआरती का आयोजन किया जाएगा।
शक्ति प्रदर्शन नहीं, हिन्दूंओं को साथ लेकर मनाएंगे महाउत्सव
पत्रकार सम्मेलन में एक प्रश्न के उत्तर में हिन्दू जागरण मंच के प्रांत सह-संयोजक जेठानंद व्यास ने कहा कि मंच के बैनर तले यह चैत्र शुक्ल पक्ष नव संवत्सर के तहत नववर्ष मनाने का चौथा वर्ष है जिसके तहत धर्मयात्रा व महाआरती का आयोजन हो रहा है। पहले समाज के लोग सोए हुए थे लेकिन अब धीरे-धीरे जाग रहे हैं। समाज का कार्यक्रम है, समाज के लोग अब ध्यान रख रहे हैं। उनका कहीं भी किसी भी प्रकार का कोई शक्ति प्रदर्शन नहीं बल्कि हिन्दूओं को साथ लेकर महाउत्सव मनाना लक्ष्य है, उन्होंने बार-बार यही बात दोहरायी कि समाज का मेले जैसा उत्सव है और सब मिलजुलकर इसे मनाएं।
हर घर पर ऊं लिखा हुआ झण्डा लगे, रंगोली सजे
जेठानंद व्यास ने सभी हिन्दूओं से आग्रह किया है कि चैत्र नववर्ष प्रतिपदा एकम के मौके पर हर हिन्दू अपने-अपने घर पर ऊं लिखा हुआ झण्डा लगाए और घरों के आगे रंगोली सजाएं ताकि पता चल सके कि नववर्ष का उत्सव हम इस तरह से मना रहे हैं।